शिवराज सरकार ने दी कर्मचारियों को सौगात, अगस्त से लागू होगा ये नियम

अब केंद्र सरकार के सम्मान ही अब प्रदेश के अधिकारियों और कर्मचारियों को महंगाई भत्ता दिया जाएगा। इस को ध्यान में रखते हुए अब 3% महंगाई भत्ता बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। ऐसे में अब इस वित्तीय वर्ष में शासन के ऊपर 625 करोड रुपए का अतिरिक्त भार हो जाएगा

मध्य प्रदेश के शासकीय कर्मचारियों को शिवराज सरकार बड़ी सौगात देने जा रही है। दरअसल प्रदेश के करीब सात लाख से अधिक नियमित कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में सरकार ने अब 3% की बढ़ोतरी कर दी है। जी हां, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसकी घोषणा करते हुए कर्मचारियों को 31% के स्थान पर अब 34% महंगाई भत्ता देने की बात कही है। बताया जा रहा है कि अब कर्मचारियों को अगस्त से बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता मिलने लगेगा और इसका भुगतान सितंबर में हो पाएगा। हालांकि अभी पेंशनर की महंगाई राहत में इसके अनुरूप बढ़ोतरी करने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार से सहमति प्राप्त की जाएगी। बढ़ोतरी होने के साथ ही प्रदेश के कई शासकीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता केंद्रीय कर्मचारियों के बराबर हो जाएगा। केंद्रीय कर्मचारियों को अभी 34 फीसदी महंगाई भत्ता मिल रहा है।

महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि “अब केंद्र सरकार के सम्मान ही अब प्रदेश के अधिकारियों और कर्मचारियों को महंगाई भत्ता दिया जाएगा। इस को ध्यान में रखते हुए अब 3% महंगाई भत्ता बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। ऐसे में अब इस वित्तीय वर्ष में शासन के ऊपर 625 करोड रुपए का अतिरिक्त भार हो जाएगा”। लेकिन पूर्व में भी एक साथ ही 11% महंगाई भत्ता बढ़ाया गया था। पेंशनर एसोसिएशन मध्य प्रदेश के वरिष्ठ उपाध्यक्ष गणेश दत्त जोशी ने कहा है कि कर्मचारियों की तरह ही अब पेंशनर की महंगाई राहत में भी बढ़ोतरी जल्द ही की जाएगी।

Must Read- उज्जैन: मुख्यमंत्री ने सपत्निक बाबा महाकाल की सवारी में की शिरकत, दर्शन को लेकर टूटा रिकॉर्ड, मोबाइल नेटवर्क हुआ जाम

आपको बता दें कि फिलहाल छत्तीसगढ़ सरकार ने 5 फीसदी महंगाई राहत में वृद्धि की सहमति प्रदान की है। ऐसे में इस आदेश का पारित होना अभी बाकी है। लेकिन पेंशनरों को अभी 17% महंगाई भत्ता मिल रहा है। पेंशनर की महंगाई राहत को देखते हुए भी उसमे वृद्धि के लिए भी अब छत्तीसगढ़ सरकार से इस को लेकर सहमति प्राप्त की जाएगी।