संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले (Dattatray Hosabole) ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े स्वदेशी जागरण मंच के कार्यक्रम में देश में बढ़ती महंगाई और गरीबी को लेकर चिंता व्यक्त की है। इस दौरान उन्होंने संघ के सर कार्यवाह ने कहा कि कहा कि वर्तमान में हमारे देश में 20 करोड़ से अधिक लोग अब भी गरीबी रेखा से नीचे रहकर बड़ी मुश्किलों से अपना जीवन यापन कर रहे हैं, साथ ही कहा कि देश में वर्तमान में 23 करोड़ लोगों की प्रतिदिन की आय 375 रुपये से भी कहीं ज्यादा कम है।

Also Read-चीन जा रहे ईरानी विमान में बम होने की खबर से हड़कंप, उड़ रहा था भारतीय वायुक्षेत्र में, Indian Army हुई Alert

बेरोजगारी और गरीबी को बताया दानव

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े स्वदेशी जागरण मंच के कार्यक्रम में संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले ने देश में बढ़ती बेरोजगारी और गरीबी की तुलना दानव अर्थात राक्षस से की है, जोकि देश की जनता को निगलने के प्रयास में है। इस दोरान उन्होंने कहा कि देश की जनता का एक बड़ा वर्ग दो वक्त के भोजन से भी वंचित है, जोकि बहुत ही अधिक चिंता का विषय है। सरकार और हमको मिलकर इस दानव का सर्वनाश करना होगा, तभी देश का भविष्य उज्वल होगा ऐसी अपील उन्होंने दबे शब्दों में सरकार और देश की जनता से की है।

Also Read-Stock Market : अडानी ग्रीन एनर्जी के शेयर में 20 प्रतिशत उछाल, जानिए क्या है एक्सपर्ट्स की राय

देश में इतने है बेरोजगार

संघ के सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबाले ने इस अवसर पर देश में बढ़ती बेरोजगारी के खिलाफ भी अपनी चिंता जाहिर की है। उन्होंने बताया कि वर्तमान समय में हमारे भारत देश में 4 करोड़ से अधिक लोग पूरी तरह से बेरोजगार हैं, जोकि एक बहुत ही चिंता का विषय है, जिसपर ध्यान दिया जाना बहुत ही जरूरी है । श्रम बल सर्वेक्षण के सर्वेक्षण के अनुसार देश में बेरोजगारी की दर 7.6 प्रतिशत है।