गौतम गंभीर पर चला चुनाव आयोग का डंडा, दर्ज हुई एफआईआर

0

क्रिकेटर से राजनेता बने गौतम गंभीर पर दिल्ली पुलिस ने एफ आई आर दर्ज की है। दरअसल पूर्वी दिल्ली के निर्वाचन अधिकारी ने भाजपा प्रत्याशी गौतम गंभीर के खिलाफ बिना अनुमति के जंगपुरा में जनसभा करने पर पुलिस को प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आदेशित किया है। बता दें कि चुनाव आयोग ने दिल्ली पुलिस से कहा है कि वह बिना इजाजत रैली करने के मामले में गौतम गंभीर पर एफ आई आर दर्ज करें। पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के निर्वाचन अधिकारी ने पुलिस को इस मामले में संज्ञान लेने के लिए कहा है।

बता दे कि गौतम गंभीर ने हाल ही में बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की है और वह पूर्वी दिल्ली से भाजपा के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ रहे है।  जहां पर उनका मुकाबला आम आदमी पार्टी प्रत्याशी आतिशी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अरविंदर सिंह लवली से है। वही गौतम गंभीर भाजपा से लोक सभा टिकट मिलने के बाद चुनावी प्रचार में जुट गए हैं और अपने संसदीय क्षेत्र में कई स्थानों पर जनसभाएं भी कर रहे हैं।

‘आप’ ने लगााया दो मतदाता परिचय पत्र होने का आरोप –

वहीं आम आदमी पार्टी ने गौतम गंभीर पर 2 मतदाता परिचय पत्र होने का भी आरोप लगाया है। आम आदमी प्रत्याशी आतिशी ने इस मामले में भाजपा के उम्मीदवार गौतम गंभीर के खिलाफ आपराधिक शिकायत भी दर्ज कराई है। आतिशी ने इस मामले में ट्विटर पर जानकारी देते हुए कहा कि गौतम गंभीर का नाम पास करोल बाग और राजेंद्र नगर दोनों विधानसभा क्षेत्रों मतदाता के रूप में दर्ज है। उन्होंने जन प्रतिनिधित्व अधिनियम 1950 की धारा 17 का हवाला देते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति 2 विधानसभा क्षेत्रों में मतदाता नहीं हो सकता। अधिनियम की धारा 31 में प्रावधान है कि मतदाता सूची में नाम के बारे में गलत जानकारी देने पर 1 वर्ष तक की सजा हो सकती है।

बीते दिनों ली थी बीजेपी की सदस्यता –

गौतम ने बीते दिनों ही वित्त मंत्री अरूण जेटली और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद की उपस्थिति में भाजपा की सदस्यता ली थी। इस मौके पर गौतम गंभीर ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन से प्रभावित हूं. मैं प्रधानमंत्री की उम्मीदों पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा। जिसके बाद भाजपा ने नई दिल्ली की पूर्वी दिल्ली संसदीय क्षेत्र से टिकट दिया था।

दिल्ली के सबसे अमीर उम्मीदवार है ‘गंभीर’ – 

37 वर्षीय गौतम गंभीर अपनी संपत्ति को लेकर भी चर्चा में आ गए है। संपत्ति के मामले में गौतम गंभीर ने कांग्रेस, आप सहित अपनी ही पार्टी के उम्मीदवारों को पीछे छोड़ दिया है। हलफनामे के मुताबिक गौतम गंभीर ने अपनी सालाना कमाई 12 करोड़ रुपये से ज्यादा बताई है। हलफनामे में गौतम गंभीर ने कुल संपत्ति 1.37 अरब रुपये घोषित की है। उन्होंने अपनी अचल संपत्ति 21 करोड़ और चल संपत्ति के रुप में 1 अरब 16 करोड़ रुपये से ज्यादा का शपथ पत्र दिया है। जबकि उनकी पत्नी नताशा गंभीर के नाम 1 करोड़ 15 लाख से ज्यादा चल और पिता दीपक गंभीर के नाम 7.98 करोड़ रुपये की संपत्ति है।