इंदौर। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने आज इंदौर में 17 प्रवासी भारतीय दिवस (पीबीडी) सम्मेलन में सूरीनाम के राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसाद संतोखी से मुलाकात की। राष्ट्रपति मुर्मु ने सूरीनाम के राष्ट्रपति संतोखी और उनके शिष्टमंडल का स्वागत किया।

राष्ट्रपति मुर्मु ने कहा कि 17 वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन में सूरीनाम की भागीदारी देखकर प्रसन्नता हो रही है। उन्हें यह जानकर खुशी हुई कि भारतीय समुदाय ने भारत छोड़ने के 150 साल बाद भी सूरीनाम में अपनी सांस्कृतिक पहचान बनाए रखी है। उन्हें यह जानकर खुशी हुई कि सूरीनाम जून 2023 में भारतीयों के आगमन की 150 वीं वर्षगांठ मना रहा है। राष्ट्रपति मुर्मु ने सूरीनाम में आयोजित समारोह की सफलता की कामना की। उन्होंने कहा कि हमारे लिए गौरव की बात है कि भारत से इतनी बड़ी भौगोलिक दूरी के बाद भी सूरीनाम में व्यापक रूप से हिंदी बोली जाती है।

राष्ट्रपति मुर्मु ने कहा कि भारत और सूरीनाम के बीच सहयोग निरन्तर बढ़ रहा है। नियमित उच्च स्तरीय यात्राएं हमारे संबंधों को और अधिक मजबूती प्रदान कर प्रगाढ़ कर रही हैं। उन्होंने तकनीकी सहयोग बढ़ाने और सूरीनाम में क्षमता निर्माण और कौशल विकास में योगदान के लिए भारत की प्रतिबद्धता को दोहराया। राष्ट्रपति ने कहा कि हमें पारस्परिक व्यापार के विस्तार के लिए मिलकर काम करना चाहिए।

Also Read : आजादी की सहस्राब्दी तक भारत बनेगा आत्मनिर्भर और विश्व गुरु – राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु

भारत और सूरीनाम के राष्ट्रपति के बीच हुई द्विपक्षीय मुलाकात में दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करने और व्यापार, ऊर्जा, प्रौद्योगिकी और संस्कृति में सहयोग को आगे बढ़ाने के तरीकों पर भी चर्चा की।