Homeदेशपीएम द्वारा तेलों का आयात घटाकर आत्मनिर्भर होने का संकल्प- नरेंद्र सिंह...

पीएम द्वारा तेलों का आयात घटाकर आत्मनिर्भर होने का संकल्प- नरेंद्र सिंह तोमर

नई दिल्ली। दक्षिण गोवा में केपे के बोरीमल क्रीड़ा संकुल में आयोजित कृषि महोत्सव का शुभारंभ आज केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर व गोवा के मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंतके आतिथ्य में हुआ। कार्यक्रम में गोवा के उप मुख्यमंत्री व कृषि मंत्रीचंद्रकांत (बाबू कवलेकर) भी उपस्थित थे। इस अवसर परतोमर ने कहा कि प्रधानमंत्रीनरेंद्र मोदी ने देश में तेलों का आयात घटाकर आत्मनिर्भर होने का संकल्प लिया। केंद्र व राज्य सरकारें किसानों के सहयोग से इस संकल्प को पूरा करने में जुटे है। तोमर ने गोवा सरकार की स्वयंपूर्ण गोवा योजनाकी सराहना करते हुए कहा कि इसके माध्यम से गोवा का सर्वांगीण विकास व लोगों का जीवन सुगम हो रहा है।

ALSO READ:बहुत सुरक्षित हैं कोरोना से बचाव की ये होम्योपैथिक दवाइयाँ, पढ़े यहां

केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर ने प्रसन्नता जताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा किसानों व अन्य वर्गों के हित में प्राथमिकता से योजनाएं बनाई जा रही है, जिन्हें गोवा में राज्य सरकार द्वारा अच्छी तरह से क्रियान्वित किया जा रहा है।सीएम डॉ. सावंत ने स्वयंपूर्ण गोवा योजना का सृजन किया व इसका बेहतर संचालन भी कर रहे हैं, जिसकी प्रधानमंत्री जी ने भी सराहना की है। यह योजना सिर्फ गोवा तक ही सीमित नहीं रहेगी बल्कि स्वयंपूर्णभारत का निर्माण करने में अपना योगदान देगी। कोविड के समय पर्यटन पर ग्रहण लगा था लेकिन गोवा में तत्कालीन मुख्यमंत्रीमनोहर पर्रिकर जी के समय में जो काम प्रारंभ हए थे, उसे बहुत खूबसूरती के साथ प्रमोदजी ने आगे बढ़ाकर राज्य का विकास किया है।

तोमर ने कहा कि कोविड काल में भी देश में कृषि की अर्थव्यवस्था मजबूती के साथ खड़ी रही और कृषि का जीडीपीमें योगदान सबको प्रसन्नता देने वाला है, इसलिए कृषि क्षेत्र को और मजबूत बनाने की आवश्यकता है। देशमें अधिकांश छोटे किसान है, जिन्हें ताकत प्रदान करने, टेक्नालाजी से जोड़ने, महंगी फलों की ओर आकर्षित करने, प्रोसेसिंग, पैकेजिंग व मार्केटिंगसुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए 10 हजार नए एफपीओ की योजना पीएम ने सृजित की है और प्रसन्नताकी बात है कि गोवा में इसे ठीक से लागू किया जा रहा है। इस योजना पर 6,865 करोड़ रूपए भारत सरकार खर्च करने वाली है, योजना छोटे किसानों के जीवन में क्रांतिकारी बदलाव लाने वाली है।

तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री का स्वप्न है किसानों की आमदनी को दोगुना किया जाएं। इसके लिए केंद्र व राज्य तथा किसान, तीनों मिलकर काम कर रहे हैं। कोविड ने इसे थोड़ा प्रभावित किया लेकिन पीएम का संकल्प है व किसान इसे पूरा करने को लालायित है। पीएम ने सिर्फ आह्वान ही नहीं किया, बल्कि पीएम किसानके माध्यम से हर साल छह हजार रू.किसानों के खातों में पहुंचाने का काम किया जा रहा है। गत एक जनवरी को ही पात्र 10.09 करोड़ किसानों को 20,900 करोड़ रू से ज्यादा राशि उनके खातों में ट्रांसफर की गई हैं, साल के पहले ही दिन दो-दो हजार रू. की एक किस्त करोड़ों किसानों को मिली है तो आशा की जा सकती है कि उनकायह साल बहुत अच्छाऔर लाभकारी निकलने वाला है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हर किसान को केसीसी मिले, यह सुनिश्चित करने का काम हुआ है। कोविड में भी करोड़ों किसानों को केसीसी दिए गए, वहीं उन्हें16 लाख करोड रू. अल्पकालिक ऋण के रूप में भी मिले है, जिससे आदान प्राप्त करने व फसल उगाहने में सुविधा हुई है। तोमर ने कहा कि भारत को आत्मनिर्भर बनाना है तो स्वाभाविक रूप से आयात पर निर्भरता कम होना चाहिए। आज गेहूं व चावल में हम सरप्लस है, दलहन में आगे ब़ढ़े है लेकिन तिलहन में आयात करते रहे, जिस पर पीएम ने देश को तेलों में आत्मनिर्भर बनाने के लिए 11 हजार करोड़ रू.के आयल पाम मिशन की शुरूआत की है। इसमें किसानों को मूल्य आश्वस्ति है, वहीं प्रोसेसिंग यूनिट आदि के मामले में सहायता देने का प्रावधान भी है।

मोदी की कोशिशहै कि हमारे वैज्ञानिक जो अनुसंधान कर रहे है, उसके परिणामस्वरूप काफी अच्छी अवस्थाबनी है लेकिन कृषि क्षेत्र की चुनौतियों पर समग्रता से विचार करअनुसंधान को और आगे बढ़ाना है। हमारी कृषि उपज की गुणवत्ता बेहतर हो और उत्पाद वैश्विक मानकों पर खरा उतरने वाले होना चाहिए। यह गौरव की बात है कि पीएम के दृढ़ संकल्प के परिमामस्वरूप कृषि निर्यात में दुनिया में भारत टाप10 देशों में शामिल हुआ है और अब हम इसे पहले 5देशों में शामिल करने के लक्ष्य को ले काम कर रहे है।

कार्यक्रम में राज्य सभा सदस्यविनय तेंदुलकरव अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी, किसान भाई-बहन उपस्थित थे। इसी तरह का महोत्सव 5 जनवरी को साखळी के रवींद्र भवन में उत्तर गोवा जिले के लिए होगा। महोत्सव में कृषि विभाग के साथ मत्स्य उद्योग, पशुपालन व पशु चिकित्सा विभाग भी शामिल हुए हैं। यहां कृषि व कृषि यांत्रिक विभाग की ओर से आधुनिक उपकरणों की प्रदर्शनी लगाई गई है। कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्रीतोमर व सीएमप्रमोद ने किसानों को प्रमाण-पत्र देकर सम्मानित भी किया।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular