कश्मीर में आज से फिर बजेगी फोन की घंटी, इंटरनेट सुविधा भी शुरू

0
112
kashmir

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से धारा-370 और धारा-35ए हटाने से पहले मोदी सरकार ने सुरक्षा के खास इंतजाम किए थे। चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाबलों को तैनात किया था और हर आने-जाने वालों पर पैनी नजर थी। इतना ही नहीं, राज्य में तनाव को देखते हुए संचार सेवाएं बंद कर दी गई थी। सुरक्षा के लिहाज से घाटी में मोबाइल, इंटरनेट और लैंडलाइन फोन सेवाएं पूरी तरह बंद हैं, किंतु अब घाटी में हालात धीरे-धीरे सामान्य होते जा रहे हैं। इसी के चलते मोदी सरकार ने 17 अगस्त से लैंडलाइन सेवा शुरू कर दी है। इससे एक बार फिर घरों में फोन की घंटी बजने लगी है। अब कश्मीर के लोग मोदी सरकार के इस फैसले का स्वागत कर रहे हैं।

सूत्रों के मुताबिक अब सामान्य हालात को देखते हुए सरकार शनिवार से घाटी में लैंडलाइन फोन सेवाएं शुरू कर दी है। हालांकि यह फैसला घाटी में जमीनी स्तर पर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा के बाद ही लिया जाएगा। बताया जा रहा है कि शुक्रवार शाम तक सुरक्षा व्यवस्था को लेकर समीक्षा की जाएगी। इसके बाद ही कुछ निर्णय लिया जाएगा। हालांकि पिछले पांच दिनों में हिंसा की एक भी घटना सामने नहीं आई है। श्रीनगर के कुछ हिस्सों में अब भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी है. साथ ही सभी सरकारी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने ऑफिसों में पहुंचे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here