इंदौर गेर : कलेक्टर और पुलिस कमिश्नर ने रखी पैनी नजर, शांति पूर्वक निकली गेर

इंदौर (indore news) : इंदौर के कलेक्टर मनीष सिंह और इंदौर के प्रथम पुलिस आयुक्त हरिनारायण चारी मिश्रा के कार्यकाल में आज एक उपलब्धि और जुड़ गई है। और वह है इंदौर में रंगारंग गेर निकलने की । गैर तो वैसे पिछले 70 सालों से निकल रही थी लेकिन 2 वर्ष कोरोना काल के कारण गेर नहीं निकल पाई और इस बार जब गेर निकली तो इंदौर के लोगों का जोश चरम पर था।

Must Read : Indore GER में नारी शक्ति ने पेश की मिसाल, लाखों की भीड़ को महिला पुलिस कर्मियों ने कुछ इस तरीक़े से संभाला

हालत यह थी कि इंदौर की सड़कों पर राजबाड़ा क्षेत्र, सराफा शीतला माता बाजार, कृष्णपुरा आड़ा बाजार इमली बाजार यशवंत रोड पीपली बाजार सहित आसपास के बाजारों में भी खचाखच भीड़ थी। इस बार रंग पंचमी की गेर में लगभग साढ़े तीन लाख लोगों ने उपस्थिति दर्ज कराई। यह शायद अब तक का रिकॉर्ड है। हालत यह थी कि राजबाड़ा पर पहली गेर आने के पहले ही पैर रखने तक की जगह नहीं थी।

Must Read : Indore GER 2022: रंगपंचमी पर उमड़ा 2 लाख से ज्यादा लोगों का सैलाब

लेकिन यह सब कुछ शांतिपूर्वक निपट गया। पूरे गेर मार्ग में कहीं भी कोई घटना दुर्घटना नहीं हुई। कलेक्टर मनीष सिंह और पुलिस आयुक्त श्री हरिनारायण चारी मिश्रा सुबह से गेर के लिए राजबाड़ा पर बने कंट्रोल रूम से सतत निगाह रखे हुए थे। कलेक्टर मनीष सिंह के निगमायुक्त रहते और कलेक्टर कार्यकाल में वैसे तो कई उपलब्धियां जुड़ चुकी है लेकिन यह भी कोई छोटी उपलब्धि नहीं है। इसी महा उत्सव में लगभग साढ़े तीन लाख लोग शामिल हो और सब शांति पूर्वक आयोजित हो जाए।