Drugs Case में नया मोड़, आर्यन को लेकर हुए बड़े खुलासे

मुंबई। बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान फिलहाल सबसे ज्यादा चर्चा में बने हुए है और इसकी वजह क्रूज ड्रग्स केस है। गौरतलब है कि, आर्यन खान के ड्रग्स केस में 24 अक्टूबर को चौंकाने वाले जानकारी सामने आई थी। जिसके चलते आर्यन के साथ सेल्फी लेने वाला एक शख्स भी वायरल हुआ था। जो किरण गोसावी के बॉडीगार्ड रहे प्रभाकर सैल ने एक हलफनामा जारी किया, जिसमें उसने कई चौंकाने वाला दावा किया है। साथ ही प्रभाकर सैल ने एक बातचीत में दावा किया कि किरण गोसावी ने आर्यन खान को छोड़ने के लिए 25 करोड़ रुपये की मांग की थी।

प्रभाकर सैल के मुताबिक, ये मांग गोसावी ने एनसीबी चीफ समीर वानखेड़े की ओर से की थी। गौरतलब है कि, प्रभाकर सैल, किरण गोसावी के बॉडीगार्ड रह चुके हैं। वह आर्यन खान के क्रूज ड्रग्स केस में एनसीबी के गवाह भी हैं। किरण गोसावी वहीं शख्स है जिसने आर्यन के साथ सेल्फी ली थी। जो फोटो सोशल मीडिया पर भी जमकर वायरल हुई थी।

इसी कड़ी में अब किरण गोसावी ने प्रभाकर सैल के इन दावों पर चुप्पी तोड़ते हुए कई बड़े खुलासे किये है। गोसावी ने कहा है कि वह समीर वानखेड़े को जानता ही नहीं है। उन्होंने कहा कि, मैं 6 अक्टूबर तक मुंबई में था। मुझे जबरदस्ती अपना फोन बंद करना पड़ा, क्योंकि मुझे धमकियों भरे ढेरों कॉल आ रहे हैं। मैं वानखेड़े को नहीं जानता. मैंने उन्हें बस टीवी पर देखा है। मैं एनसीबी की किसी पिछली रेड या एक्शन का हिस्सा नहीं था। मैंने सभी बातें पढ़ने के बाद पंचानामा साइन किया था। आर्यन खान ने मुझे उनकी मैनेजर से बात करवाने को कहा था, क्योंकि उनका फोन उस समय उनके पास नहीं था।

उन्होंने आगे कहा कि, मेरे पास मेरा फोन था, उन्होंने (आर्यन) मुझसे रिक्वेस्ट की थी कि मैं उनकी बात उनकी मैनेजर या मां-बाप से करवा दूं। मैं प्रभाकर को जनता हूं, उसने मेरे लिए काम किया था, लेकिन उसके इल्जामों का मुझे कोई इल्म नहीं है। मैं प्रभाकर के टच में 11 अक्टूबर से नहीं हूं। मेरे खिलाफ पुणे में सिर्फ एक पुराना केस रजिस्टर हुआ था, लेकिन अचानक उस पुराने केस पर काम शुरू हो गया। मेरी तलाश का नोटिस जारी हो गया। मेरी जान को खतरा है। मुझे धमकी भी दी गई है कि मुझे जेल में मार दिया जाएगी। आप ही सोचिए, मैं सुरक्षित हूं या नहीं। मेरी समीर वानखेड़े से 6 अक्टूबर के बाद कोई बात नहीं हुई है।