हर्षोल्लास के साथ हुए मुहूर्त के सौदे

छावनी अनाज दलहन तिलहन मंडी में सोमवार को हर्षोल्लास के साथ 2 वर्ष बाद दीपावली मिलन समारोह सम्पन्न हुआ

इंदौर:  छावनी अनाज दलहन तिलहन मंडी में सोमवार को हर्षोल्लास के साथ 2 वर्ष बाद दीपावली मिलन समारोह सम्पन्न हुआ। व्यापारियों ने बढ़चढ़ कर सौदे किए। सियागंज थोक किराना बाजार में भी खुशी के माहौल में सौदे किए गए।

इंदौर। छावनी मंडी में भाव इस प्रकार रहे :

दलहन भाव (प्रति क्विंटल) –

चना काँटा 5111 – 5201 विशाल चना 4801 – 5051 डंकी चना 4401 – 4601 मसूर 7250 – 7251 मूँग बेस्ट व एवरेज 6101 – 7301 उड़द 5001 – 6001 बेस्ट 7001 – 7401 नई उड़द 5501 – 6501 हल्की उड़द 2501 – 4001 तुअर महाराष्ट्र सफेद 6301 – 6401 कर्नाटक 6501 – 6701 तुअर निमाड़ी 5301 – 6101 रुपए।

तिलहन भाव (प्रति क्विंटल) – सोयाबीन 4501 – 5201 सरसों निमाड़ी 7701 – 7801 रायडा 7401 – 7501 रुपए क्विंटल।

खली – सोया डीओसी स्पॉट (खली) 38001 – 40001 रुपए टन, कपास्या खली इंदौर 1951 रुपए प्रति 60 किलो।

दाल भाव (प्रति क्विंटल) –

तुअर दाल सवा नंबर 8501 से 8601 तुअर दाल फूल 8701 से 8801 तुअर दाल बोल्ड 8900 से 9600 मार्के वाली देसी फटका तुअर दाल 9501 चना दाल 5950 से 6550 मसूर दाल 8250 से 8650 मूंग दाल 7700 से 8000 मूंग मोगर 8600 से 8900 उड़द दाल 9100 से 9400 और उड़द मोगर 9900 से 10500 रुपये प्रति क्विंटल।

चावल भाव (प्रति क्विंटल) –

बासमती (921) 9001 से 9501 तिबार 7500 से 8000 दुबार 7000 से 7500 मिनी दुबार 5500 से 6000 मोगरा 3000 से 5500 बासमती सैला 4500 से 6500 कालीमूंछ 5000 से 7000 राजभोग 5900 से 6000 दूबराज 3500 से 4000 परमल 2500 से 2650 पोहा किस्मनुसार 3400 – 3900 रुपये प्रति क्विंटल।

अनाज भाव (प्रति क्विंटल) –

गेहूं मिल क्वालिटी 2025 – 2051 लोकवन 2200 – 2251 मालवराज 2350 – 2401 चंद्रोसी शरबती 2500 – 4001 मक्का 1100 – 1501 ज्वार 1300 – 1501 रुपए क्विंटल।

सियागंज थोक किराना बाजार –

शकर – 3725. 25 – 3771 शकर एम 3825 – 3851 रुपये प्रति क्विंटल। गेहूं आटा 1180 मैदा 1220 रवा 1250 – 1280 और चना बेसन 3600 से 3625 रुपये प्रति 50 किलो।

तेल बाजार (प्रति 10 किलो) –

मूगंफली तेल इंदौर 1421 – 1441 मुबंई 1425 – 1431 गुजरात लूज 1401 – 1405 सोया रिफाइन्ड तेल इंदौर 1301 – 1305 सोया सॉल्वेंट 1240 – 1245 इंदौर पाम ऑइल 1282 – 1285 कपास्या तेल 1365 – 1370 रुपये।

आलू 501 – 1000 चिप्स का आलू 1201 – 1300 प्याज 1501 – 2000 बेस्ट 2500 – 2800 रुपए प्रति 40 किलो।
लहसुन 3501 – 5800 रुपये क्विंटल।

मावा – 280 रुपए किलो।

——————

ईंधन सस्ता होने से घटेगी खुदरा महंगाई

इंदौर (व्यापार प्रतिनिधि)।

केंद्र सरकार द्वारा गत बुधवार को पेट्रोल पर 5 रुपये और डीजल पर 10 रुपये लीटर उत्पाद शुल्क घटाने से खुदरा मूल्य सूचकांक अर्थात सीपीआई पर आधारित महंगाई दर 0. 30 प्रतिशत अंक कम हो सकती है। बहरहाल यह नवंबर के महंगाई दर के आंकड़ों में पूरी तरह नजर नहीं आएगा जो दिसंबर में जारी होना है। इसे प्रभावी रूप से लागू होने में वक्त लगेगा।

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश बिहार गुजरात गोवा कर्नाटक उत्तराखंड असम मणिपुर और त्रिपुरा सहित कुछ राज्यों ने भी इन दो ईंधनों पर लगने वाले मूल्यवर्धित कर यानि वैट में कटौती की है। इससे सीपीआई महंगाई दर में और कमी आने की संभावना है। वहीं दूसरी तरफ एक अर्थशास्त्रियों का कहना है कि चालू वित्त वर्ष के शेष 5 महीनों में इस फैसले से केंद्र के खजाने पर 60000 करोड़ रुपये का बोझ पड़ने की संभावना है। बहरहाल कीमत कम होने से ईंधन की मांग बढ़ेगी और इससे सरकार के कोष पर पड़ने वाले बोझ का आंकड़ा कुछ बदल सकता है।

अर्थशास्त्री प्रमोद कुमार ने कहा कि केंद्र के कदमों का सीधा असर खुदरा महंगाई पर 0. 18 से 0. 20 प्रतिशत अंक तक पड़ सकता है। बहरहाल उन्होंने कहा कि द्वितीयक असर सीधे असर के करीब 50 प्रतिशत के करीब होगा। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर हम उम्मीद करते हैं कि खुदरा महंगाई दर 0. 3 प्रतिशत अंक के करीब कम हो सकती है। अर्थशास्त्री रवि उपाध्याय ने कहा कि उत्पाद शुल्क में कटौती का सीधे असर से खुदरा महंगाई दर में 0. 15 प्रतिशत अंक की कमी आएगी। उन्होंने कहा दूसरे दौर का असर इस पर निर्भर करेगा कि ईंधन की लागत में आई कमी का कितना लाभ उत्पादक अपने ग्राहकों को देते हैं।

……….

विकास इकोटेक लिमिटेड उपलब्धि हासिल की

नई दिल्ली। सरकार की बड़ी पहल आत्मनिर्भर भारत पर ध्यान केंद्रित करते हुए विकास इकोटेक लिमिटेड ने एक बहुत ही उल्लेखनीय उपलब्धि प्राप्त की है। अपनी निरंतर अनुसंधान एवं विकास पहल और गतिविधियों के साथ कंपनी की तकनीकी टीम ने नए उत्पादों की एक श्रृंखला विकसित की है जो प्रत्यक्ष आयात का विकल्प प्रदान करती हैं। ये उत्पाद पॉली ओलेफिनिक इलास्टोमर्स की जगह लेंगे जिन्हें पारंपरिक रूप से एलजी ड्यू पोंट डॉव एक्सॉन जैसी दुनिया की प्रमुख कंपनियों से देश में आयात किया जा रहा है। विकास इकोटेक लिमिटेड नई दिल्ली की कंपनी है जो प्लास्टिक और रबड़ उद्योगों के लिए स्पेशलिटी पॉलिमर स्पेशलिटी एडिटिव्स और केमिकल्स के कारोबार करती है।

……..

अदाणी ट्रांसमिशन ने 700 मिलियन डॉलर जुटाए

भोपाल। भारत की सबसे बड़ी निजी क्षेत्र की बिजली ट्रांसमिशन एवं रिटेल डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी अदाणी ट्रांसमिशन लिमिटेड यानि एटीएल ने प्रमुख अंतरराष्ट्रीय बैंकों के साथ हस्ताक्षरित निश्चित समझौतों के जरिये अपने निर्माणाधीन ट्रांसमिशन एसेट पोर्टफोलियो के लिए 700 मिलियन अमेरिकी डॉलर जुटाए हैं। रिवॉल्विंग फैसिलिटी गुजरात और महाराष्ट्र में एटीएल की चार ट्रांसमिशन परियोजनाओं का वित्तपोषण करेगी। एटीएल के एमडी एवं सीईओ अनिल सरदाना ने कहा कि परियोजना के वित्तपोषण के लिए किया गया यह सौदा ट्रांसमिशन क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय बैंकों द्वारा स्वीकृत अपनी तरह का पहला सौदा है और अदाणी समूह के समग्र विकास मॉडल की पुष्टि करता है।

…….

गौरवशाली 74 सामूहिक दीक्षा महोत्सव सूरत में

सूरत। जैन दीक्षा त्याग धर्म का सर्वोच्च शिखर है और इस विरति मार्ग पर एक साथ 74 व्यक्तियों का सामूहिक अनुगमन केवल और केवल त्याग भूमि भारत में ही संभव है। सूरत के वेसू विस्तार में निर्मित अध्यात्म नगरी बलर हाउस में 74 दीक्षार्थी संयम मार्ग पर पदार्पण करने जा रहे हैं जिनमें 8 परिवार अपने घरों में ताले लगाकर संयम की दिशा में निकल पड़ेंगे। गौरवशाली गुजरात में तापी तट पर स्थित डायमंड एवं टेक्सटाइल नगरी के रूप में विश्वविख्यात सूरत अब दीक्षानगरी के रूप में जाना जा रहा है। सूरत दीक्षा धर्म का एक नया इतिहास रचने जा रहा है जिसमें 10 या 20 या 40 या 50 नहीं अपितु 74 मुमुक्षु एक साथ दीक्षा लेने जा रहे हैं। समग्र भारत वर्ष में यह एक अद्भुत घटना है।