मध्य प्रदेश का मौसम अब कड़ाके की सर्दी के मुहाने पर खड़ा हुआ है। उत्तर भारत से आ रही शीतल और तेज हवाएं देश के विभिन्न राज्यों सहित मध्य प्रदेश में भी अपना अच्छा-खासा प्रभाव दिखा रही है, जिससे प्रदेश के अधिकतम जिलों में तापमान अब तेजी से गिरने लगा है। सर्वाधिक असर प्रदेश के उत्तरी और उत्तर पूर्वी जिलों में देखने को मिल रहा है, जहाँ कड़ाके की सर्दी का शुरुआती अहसास पूरी मौजूदगी दर्ज करा रहा है। भोपाल मौसम विभाग के अनुसार आने वाले एक से दो दिन में प्रदेश के अधीकतम जिलों में कड़ाके की सर्दी का असर देखा जा सकेगा साथ ही तेज हवाओं से ठिठुरन बढ़ने के पूर्वानुमान मौसम विभाग के द्वारा लगाए गए हैं।

Also Read-Live Darshan : कीजिए देश भर के प्रमुख मंदिरों के शुभ दर्शन

इन जिलों में गिरा तेजी से पारा

भोपाल मौसम विभाग के अनुसार मध्य प्रदेश के उत्तरी और उत्तर पूर्वी जिलों में पारा तेजी से लुढ़का है। ग्वालियर, जबलपुर, खजुराहो, शिवपुरी, गुना, सतना, छतरपुर, पन्ना, रीवा आदि जिलों में ठंड का प्रभाव तेजी से बढ़ा है , इसके साथ ही प्रदेश की राजधानी भोपाल व्यवसायिक राजधानी इंदौर, धार्मिक राजधानी उज्जैन आदि प्रमुख जिलों में भी अब सर्दी ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है, जिससे इन सभी जिलों के निवासियों को गर्म कपड़ों की आवश्यकता पढ़ने लगी है।

Also Read-BCCI ने पूरी सेलेक्शन कमेटी को किया बर्खास्त, वर्ल्ड कप में हार के बाद मचा हाहाकार

ये जिला रहा सबसे ठंडा

भोपाल मौसम विभाग के अनुसार मध्य प्रदेश में सर्वाधिक ठंडा जिला पचमढ़ी रहा है। मौसम विभाग के अनुसार पचमढ़ी में 7.8 डिग्री न्यूनतम तापमान दर्ज किया है। भोपाल मौसम विभाग के अनुसार आने वाले सोमवार तक पचमढ़ी में पारा और भी तेजी से निचे लुढ़क सकता है, जिससे की इलाके में तेज कड़ाके की सर्दी का अहसास होने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है।

इन जिलों में पड़ रही है गर्मी

भोपाल मौसम विभाग के अनुसार जहां एक ओर प्रदेश के अधिकतम जिले अब सर्दी के शुरूआती अहसास के साक्षी बन रहे हैं, वहीं कुछ जिले ऐसे भी हैं जहां अब भी अधिकतम तापमान में तेजी बनी हुई है। भोपाल मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के खंडवा, खरगोन, दमोह, सीधी, रतलाम आदि जिलों में दिन अच्छी खासी गर्मी महसूस की जा रही है। वहीं सबसे अधिक गर्म जिले की बात करें तो सीधी जिला मध्य प्रदेश में सर्वाधिक गर्म जिला साबित हुआ जहां तापमान 31.6 डिग्री तक पहुंच गया ।