मध्य प्रदेश (MP) के मौसम (Weather) में परिवर्तन साफ़ नजर आने लगा है। मानसून और बारिश की प्रदेश से जहां विदाई हो चुकी है, वहीं प्रदेश के मौसम में अब हल्की गुलाबी ठंड का अहसास शुरू हो चूका है। एक तरफ जहाँ प्रदेश के विभिन्न जिलों में रात का पारा लुढ़कने लगा है, वहीं सुबह और शाम को भी अब ठंडक का दौर शुरू हो चूका है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के कई जिलों में रात के समय न्यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस तक गिर चूका है, जोकि प्रदेश के मौसम में अच्छी ठंड की शुरुआत मानी जा रही है।

भोपाल में टूटा रिकॉर्ड

भोपाल के मौसम की बात करें तो राजधानी में 13 साल बाद रात का तापमान दस डिग्री से नीचे पहुंच गया। जिससे भोपाल में ठंड का नया रिकॉर्ड बन गया। राजधानी भोपाल का रात का तापमान 9.6 डिग्री रहा।

Also Read – राजधानी भोपाल से एक बार फिर धर्मांतरण का मामला आया सामने, वीडी शर्मा बोले-आरोपियों को मिलेगी कड़ी सजा

इस कारण बढ़ रही है ठंड

मौसम वैज्ञानिक वेद प्रकाश सिंह ने बताया कि वातावरण कुछ दिनों तक शुष्क रहेगा. जैसे- जैसे ठंड बढ़ती जा रही है, दिन और रात के तापमान में भी बदलाव आने लगा है। सर्दी का मौसम प्रदेश को प्रभावित करेगा. मध्यप्रदेश के लगभग सभी जिलों में न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस तक तापमान जाएगा। जानकारी के अनुसार हवाओं की दिशा दक्षिण-पश्चिम है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार पहाड़ों पर बर्फबारी के कारण मौसम भी बदल गया है और ठंड प्रदेश में महसूस होने लगी है।

पचमढ़ी सबसे ठंडा , 5 डिग्री पहुंचा पारा

अगर राज्य की बात करें तो प्रदेश में भी स्थिति भोपाल जैसी ही है। कल की बात करें तो राज्य के 9 जगहों पर पारा 9 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. बता दें कि पचमढ़ी राज्य में कल सबसे ठंडा रहा. पचमढ़ी में पारा 5 डिग्री पहुंच गया। मौसम विभाग के मुताबिक, चार से पांच दिनों तक पूरे राज्य में तापमान में ऐसा ही उतार-चढ़ाव बना रहेगा। मौसम विभाग का कहना है कि मध्य प्रदेश में जल्द ही शीत लहर आने की संभावना है, क्योंकि यह उत्तर भारत से आ रही सर्द हवाओं के चलते प्रदेश में तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। इसके अलावा उत्तर भारतीय राज्यों में भी बर्फबारी शुरू हो गई है, जिसका असर मध्य प्रदेश पर दिखाई दे रहा है।