प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने के लिए गोवा में तैयार दूसरे अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे मोपा का रविवार शाम को उद्घाटन किया। नवंबर 2016 में प्रधानमंत्री मोदी ने इस इंटरनेशनल एयरपोर्ट की आधारशिला रखी थी। करीब 2,870 करोड़ रुपये की लागत से इस हाईटेक एयरपोर्ट का आज मोदी जी ने ही उद्घाटन किया है।

कई सुविधाओं से लेस है मोपा हवाई अड्डा

बता दें इस सौर ऊर्जा प्लांट, हरित भवन, एलईडी रोशनी, रिसाइकिलिंग के साथ अन्य सुविधाओं लैस किया गया है। यह राज्य में पहले से संचालित डाबोलिम हवाई अड्डे की तुलना में कई अन्य सुविधाओं से लैस है। डाबोलिम में कार्गो सुविधा नहीं थी, लेकिन इस हवाई अड्डे पर नाइट पार्किंग सहित 25,000 मीट्रिक टन की हैंडलिंग क्षमता वाली कार्गो सुविधा भी मिल सकेगी।

उत्तरी गोवा के मोपा गांव में बना यह हवाई अड्डा राजधानी पणजी से लगभग 35 किलोमीटर और दक्षिण गोवा से लगभग 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस हवाई अड्डे पर दुनिया के सबसे बड़े विमानों को संभालने वाला रनवे भी बनाया गया है। पहले फेज में हवाई अड्डे की सालाना क्षमता करीब 44 लाख यात्रियों की है। हालांकि, परियोजना के पूरा होने पर इसकी कुल क्षमता सालाना 1 करोड़ यात्रियों की हो जाएगी।

मोपा हवाई अड्डे पर दिखेगी गोवा की अनोखी संस्कृति

मोपा हवाई अड्डे पर हरित भवन, रनवे पर LED लाइट्स के अलावा वर्षा जल संचयन, रीसाइक्लिंग सुविधाओं के साथ अत्याधुनिक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट भी स्थापित किया गया है। इसी तरह यहां 3D मोनोलिथिक प्रीकास्ट बिल्डिंग, स्टेबिल रोड, रोबोमैटिक होलो प्रीकास्ट वॉल, 5G कम्पेटिबल IT इंफ्रास्ट्रक्चर जैसी कुछ सर्वश्रेष्ठ तकनीकों का इस्तेमाल भी किया गया है। इसके अलावा यहां 14 पार्किंग बे और सामान छोड़ने की स्वचाहित सुविधा भी मिलेगी। यहां यात्रियों को गोवा का अनोखा कल्चर भी देखने को मिलेगा।

Also Read : Himachal Pradesh : एक बस ड्राइवर के बेटे ने थामा हिमाचल का स्टयेरिंग, पढ़ें सुखविंदर सिंह सुक्खू की संघर्ष कहानी

5 जनवरी से भरेगी पहली उड़ान

मोपा इंटरनेशनल एयरपोर्ट देश के आठ प्रमुख शहरों- दिल्ली, मुंबई, पुणे, बेंगलुरु, अहमदाबाद, जयपुर, हैदराबाद और चेन्नई से जुड़ेगा। मोपा और चेन्नई के बीच उड़ानें बुधवार को छोड़कर रोजाना संचालित होंगी। मोपा और अहमदाबाद के बीच रविवार को छोड़कर रोजाना परिचालन होगा। मोपा से पुणे के लिए पहली उड़ान (एक घंटा पांच मिनट लंबी) 5 जनवरी को रात 11:20 बजे उड़ान भरने वाली है।