महाराष्ट्र: विधानसभा स्पीकर बने कांग्रेस के नाना पटोले, भाजपा की भी हां

0
60

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विधानसभा में 30 नवंबर को बहुमत साबित कर दिया है। उन्हंे 169 विधायकों का समर्थन मिला है, जबकि 4 विधायकों ने न समर्थन किया और न ही विरोध। वहीं भाजपा विधायकों ने सदन का वाॅकआउट कर दिया है, इसलिए फ्लोर टेस्ट में शामिल नहीं हुए। इधर, 1 दिसंबर को विधानसभा में स्पीकर का चुनाव होगा है। महाविकास अघाड़ी ने कांग्रेस के नाना पटोले को अपना उम्मीदवार बनाया है, जबकि भाजपा ने किशन कथोरे को मैदान में उतारा था, लेकिन बाद में भाजपा उम्मीदवार ने अपना नाम वापस ले लिया है। इस प्रकार कांग्रेस के नाना पटोले निर्विरोध स्पीकर चुने गए हैं।

भाजपा की तरफ से किशन कथोरे ने नामांकन दाखिल किया था, लेकिन सभी के अनुरोध पर उन्होंने अपना नाम वापस ले लिया है। एनसीपी नेता छगन भुजबल ने कहा है कि पहले विपक्ष ने भी विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए उम्मीदवार खड़ा किया था, लेकिन हमारे विधायकों की तरफ से किए गए अनुरोध और विधानसभा की शुचिता बनाए रखने के लिए उन्होंने नाम वापस ले लिया है।

नवनिर्वाचित स्पीकर नाना पटोले ने कहा कि महाराष्ट्र विधान सभा अध्यक्ष को निर्विरोध चुनने की परंपरा रही है और आज भी वही परंपरा कायम रहेगी और अध्यक्ष निर्विरोध चुन कर आएगा। भाजपा नेता चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि सत्ताधारी पार्टियों ने भाजपा से गुजारिश की थी कि परंपरा के मुताबिक विधानसभा का अध्यक्ष बिना विरोध चुना जाए और उस पर कोई विवाद ना हो, इसलिए हमने फैसला किया है कि हमारे उम्मीदवार किशन कथोरे ने अपना नामांकन वापस लिया है और महाराष्ट्र की परंपरा के मुताबिक विधानसभा अध्यक्ष निर्विरोध चुने जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here