भोपाल। राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा कि शासन की विभिन्न योजनाओं से नागरिकों को परिचित कराना और उनसे लाभ प्राप्त कर समृद्धि की ओर बढ़ने के लिए प्रेरित करने में जनसंपर्क कर्मियों का प्रमुख योगदान रहता है। जनसंपर्क विभिन्न संगठनों और जनता के बीच कड़ी के रूप में विभिन्न मुद्दों और समस्याओं को शासन तक पहुँचाने का कार्य कर रहा है। आमजन को सूचनाएँ देकर, ज्ञानवर्द्धन कर सशक्त बनाने में जनसंपर्क महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। राज्यपाल गत दिवस कुशाभाऊ ठाकरे अंतर्राष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर में पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी ऑफ़ इंडिया की 44वीं ऑल इंडिया पब्लिक रिलेशंस कॉफ्रेंस के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे।

राज्यपाल पटेल ने कहा कि योजनाओं के निर्माण एवं क्रियान्वयन में जनसंपर्क की महत्वपूर्ण भूमिका है। मध्यप्रदेश में जनसंपर्क विभाग युवा, महिला, किसान, जनजातीय और अनुसूचित जाति सहित विभिन्न समुदाय को योजनाओं से परिचित करा कर अधिकतम लोगों तक हितलाभ पहुँचाने में प्रभावी कार्य कर रहा है। योजनाओं को समुदाय से जोड़ कर जनसंपर्क ने विकास को ऊँचाई दी है।

राज्यपाल ने कहा कि पब्लिक रिलेशंस सॉसाइटी ऑफ़ इंडिया ने सतत रूप से राष्ट्र और समाज से जुड़े मुद्दों पर कार्य किया है। सोसाइटी देश में राष्ट्रीय एकात्म और विचारों की सौहार्दता को प्रोत्साहित करने के लिए “एक राष्ट्र- एक संकल्प- एक स्वर” की भावना को सशक्त करने के संकल्प को लिए हुए है। भारत को एकजुट करने और राष्ट्रीय भावनाओं को जगाने के प्रयास भी इस अभियान में शामिल हैं।
राज्यपाल पटेल ने कांफ्रेंस के विषय “आत्मनिर्भर भारत : जनसम्पर्क की भूमिका” की प्रशंसा करते हुए कहा कि भारत दुनिया के युवा देशों में से एक है। केन्द्र सरकार ने युवा शक्ति को शिक्षा और कौशल विकास के अवसर देकर, प्रगति के पथ पर अग्रसर करने का संकल्प लिया है। आने वाला कल हमारे कर्मठ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत का है। उन्होंने आशा की कि शासन के प्रयासों के साथ पीआरएसआई के संकल्प का समन्वय भारत को एक नई पहचान दिलाने में कामयाब होगा।

राज्यपाल पटेल ने कहा कि वर्तमान परिदृश्य में जनसंपर्क के माध्यम तेज़ी से बदल रहे हैं। जनसंपर्क बुद्धिजीवियों को इस विषय में भी कार्य करना आवश्यक है, जिससे जन-कल्याणकारी कार्यों में जनसंपर्क का प्रभावी उपयोग किया जा सके। पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी ऑफ़ इंडिया, जनसम्पर्क और लोक संचार की शिक्षा और प्रशिक्षण के क्षेत्र में विश्वविद्यालय और संस्थानों का मार्गदर्शन करे। राज्यपाल ने जनसंपर्क के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य हेतु पुरस्कार प्रदान किए और पुरस्कृत व्यक्तियों को बधाई दी।

Also Read : Andhra Pradesh : पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू के रोड शो में भगदड़, हादसे में 8 लोगों की मौत कई घायल

समारोह में सांसद उदयप्रताप सिंह ने जनसंपर्क की महत्ता को रेखांकित करते हुए कहा कि जनसंपर्क से प्रजातंत्र मज़बूत होता है। वरिष्ठ पत्रकार गिरिजा शंकर, पीआरएसआई चेयरमेन डॉ. अजीत पाठक और  दिलीप चेरियन ने भी संबोधित किया। स्वागत उद्बोधन पीआरएसआई के भोपाल चेप्टर चेयरमैन पुष्पेन्द्र पाल सिंह ने दिया।