प्रभारी परियोजना यंत्री पर लोकयुक्त पुलिस की गिरी गाज, तीस हजार रूपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार

शुक्रवार को सिवनी के प्रभारी परियोजना यंत्री पीआईयू पीडब्ल्यूडी को रंगे हाथों 30,000 की नोटों की गड्डियों के साथ पाल पेट्रोल पंप के सामने से गिरफ्तार किया है।

lokayukt

जबलपुर: मध्य प्रदेश में लोकायुक्त द्वारा लगातार कार्यवाही की जा रही है। अपने काम में लापरवाही करते हुए और रिश्वत की मांग करने वाले कर्मचारियों अधिकारियों पर अब लोकायुक्त नजर बनाए हुए हैं। इसी कड़ी में शुक्रवार को सिवनी के प्रभारी परियोजना यंत्री पीआईयू पीडब्ल्यूडी को रंगे हाथों 30,000 की नोटों की गड्डियों के साथ पाल पेट्रोल पंप के सामने से गिरफ्तार किया है।

Must Read- इंदौर : जीएसटी नंबर का दुरुपयोग कर आरोपी ने की थी लाखों की धोखाधड़ी, चढ़ा क्राइम ब्रांच के हत्थे

लोकायुक्त ने कार्यवाही करते हुए शुक्रवार को सिवनी के प्रभारी परियोजना मंत्री पीआईयू पीडब्ल्यूडी को रंगे हाथों ₹30000 रूपये की नोटों की गड्डीयों के साथ गिरफ्तार किया। प्रभारी परियोजना यंत्री को पेट्रोल पंप के सामने से दबोचा गया है। आरोपी ने ठेकेदार के बिल की राशि निकालने के एवज में रिश्वत की मांग की थी। जब लोकायुक्त पुलिस को इस बारे में सूचना मिली तो इस दौरान ₹30000 के नोटों की गड्डियों के साथ रंगे हाथों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया और उनसे कड़ी पूछताछ की जा रही है।