Breaking News

जानिए 1947 में भारत में कितनी महंगाई थी, इतने में बिकती थी चीजें?

Posted on: 26 Jun 2018 09:52 by Lokandra sharma
जानिए 1947 में भारत में कितनी महंगाई थी, इतने में बिकती थी चीजें?

भारत लगभग 200 सालों तक अंग्रेजों का गुलाम रहा, महज़ 70 साल हुए हैं हमें आज़ाद हुए. और आज़ादी के बाद से आजतक बढ़ती महंगाई लगातार लोगों की कमर तोड़ रही है. ऐसे में आम व्यक्ति जितना भी चाहे काम कर लें वो कम ही नजर आता है. लेकिन अगर वक्त में पीछे झांके तो आपने भी अपने बुजुर्गों से सुना होगा की उनके समय में सामान सस्ता था और फलां पैसे में इतनी चीजें खरीदी जा सकती थी तो आज जानते है की आजादी के वक्त कितनी महंगी या सस्ती थी चीजें। देखते है 70 सालों में कितना बदला है भारत

1 रुपये का सिक्का पहले नकद चांदी में हुआ करता था ओर रुपये की कीमत 16 आने यानी 64 पैसे के बराबर थी. आपको यह जानकर हैरानी होगी की उस वक़्त 1 डॉलर की कीमत 1 रुपये जितनी ही थी और उस वक़्त रुपया इतना शक्तिशाली था कि रोजाना की खरीदारी चिल्लर में ही हो जाया करती थी.

उस समय मे चावल 65 पैसे प्रति किलो के दाम पर और गेहूं 26 पैसे में ही मिल जाते थे. चीनी जब 57 पैसे प्रति किलो थी. पेट्रोल उस समय इंटरनेशनल मार्किट में लगभग 40 पैनी थी.

तब अहमदाबाद से मुम्बई तक की हवाईयात्रा मात्र 18 रुपये में होती थी. तब तेनाली-रामा जैसी बुक 1.5 रुपये में आती थी. उस जमाने मे फ़िल्म की टिकट 40 पैसे से लेकर 8 आने तक मिल जाती थी.

आज के दौर में 1947 के ये दाम हमे भले ही चिल्लर जैसे लगते हो लेकिन ये भी है तब भारत के लोगो की प्रति व्यक्ति आय 150 रुपये से ज्यादा नही थी. उस वक़्त इतनी कम तनख्वाह में भी कम खर्च में आसानी से जीवन निर्वाह हो जाता था.

 

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com