Homeइंदौर न्यूज़Indore News :ग्राम पंचायतों में हेरा फेरी करने वाले सरपंचों के विरुद्ध...

Indore News :ग्राम पंचायतों में हेरा फेरी करने वाले सरपंचों के विरुद्ध बड़ी कार्यवाही

इंदौर (Indore News) : इंदौर जिले में ग्राम पंचायतों में खरीदी, निर्माण कार्य, स्टॉक रजिस्टर में हेराफेरी, सहित अन्य वित्तीय अनियमितताएं एवं गबन करने पर 4 सरपंचों एवं ग्राम पंचायत सचिवों के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई करते हुए एफ आई आर दर्ज कराई गई है। यह कार्रवाई कलेक्टरमनीष सिंह के निर्देशन में की गई है। कलेक्टर मनीष सिंह ने कड़े लहजे़ में कहा है कि दोषी सरपंचों को पद से हटाने की कार्रवाई की जाएगी। पंचायत सचिवों पर निलंबन के निर्देश कलेक्टर द्वारा दिए गए हैं

वित्तीय अनियमितता गबन, हैराफरी, भण्डार व लेखा नियमों के विपरित राशि आहरित किये जाना पाये जाने से ग्राम पंचायत मुरादपुरा के सरपंच हरी परमार, ग्राम पंचायत पुवार्डाहप्पा के सरपंच सिकंदर पटेल, ग्राम पंचायत कांकरियाबोर्डिया के सरपंच मती कृष्णा गोपाल पांचाल एवं ग्राम पंचायत जिन्दाखेडा के सरपंच रिंकु राहूल राठोर व सचिव रामप्रसाद राठोर के विरूद्ध पुलिस थाना क्षिप्रा, सांवेर एवं चंद्रावतीगंज में भारतीय दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 120 बी, 406, 407 420 के तहत अपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है । कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा ग्राम पंचायतों की जांच हेतु दल गठित किए गए थे। गठित दल द्वारा उक्त ग्राम पंचायतों में अनेक अनियमितता पाई गई।

ग्राम पंचायत मुरादपुरा जांच में पाया गया कि इस ग्राम पंचायत द्वारा जांच अवधि में 14 वे वित्त से कुल 6 लाख 32 हजार 85 रुपये की खरीदी की गई । इनमें से केवल 60 हजार 810 रुपये की काजु कतली और बर्फी मिठाई क्रय की गई है । सम्पूर्ण खरीदी कच्चे बिलों से की गई । अ.जा. कल्याण विविध मद में 7.31,778 रुपये की खरीदी की गई एवं 15 वे वित में 1,44,996 रुपये की खरीदी की गई । इस प्रकार 15 लाख रूपये से अधिक की खरीदी की गई, जिसमें निर्माण सामग्री अधिकांशतः एक ही फर्म संदीप ट्रेडर्स धरमपूरी से क्रय की गई है ।

ग्राम पंचायत पुवार्डाहप्पा : ग्राम पंचायत द्वारा वर्ष 2019 से 2021 तक 24,41,107 रुपये की राशि निर्माण सामग्री, इलेक्ट्रानिक सामान एवं अन्य सामग्री क्रय करने में व्यय की है। उक्त खरीदी अधिकांशतः फर्म हकीम पटेल क्षिप्रा, हकीम पटेल बुढीबरलाई, मेसर्स सिकन्दर पटेल (जो कि स्वयं सरपंच के नाम पर है) से की गई है उक्त सभी फर्म सरपंच सिकन्दर पटेल के परिवार के व्यक्तियों की है। इसके अतिरिक्त 22,500 रुपये की राशि भृत्य गब्बर के नाम से आहरित की है जबकि उसकी नियुक्ति ही नही की गई है ।

ग्राम पंचायत कांकरिया बोर्डिया ग्राम पंचायत द्वारा वर्ष 2019 से 2021 तक कुल 8,36,632 रुपये की वित्तीय अनियमितता पाई गई है। व्हाउचर क्रमांक 22 दिनांक 6 नवम्बर 2020 से भाटिया आर्टस सांवेर को पेंटिंग ओर पुताई कार्य हेतु 12,670 रुपये का भुगतान किया गया परन्तु भाटिया आर्टस सांवेर से दुरभाष पर बात करने पर उसने बताया कि उसे मात्र 1100 रुपये दिये है। उसके द्वारा बिल दिया है ।

ग्राम पंचायत जिन्दाखेडा ग्राम पंचायत द्वारा वर्ष 2019 से 2021 की अवधि में निर्माण सामग्री व अन्य सामग्री क्रय करने पर 36,43,880 रुपये की राशि आहरित की है। इसमें से अधिकांश निर्माण सामग्री ग्राम पंचायत के द्वारा जीवन ट्रेडर्स से ली गई है। जीवन ट्रेडर्स फर्म ग्राम पंचायत के सचिव रामप्रसाद राठोर के पुत्र के नाम से है और उक्त फर्म मौके पर नही पाई गई है ।

RELATED ARTICLES

Stay Connected

9,992FansLike
10,230FollowersFollow
70,000SubscribersSubscribe

Most Popular