इंदौर(Indore) : भगवान शिव की उपासना को हर घर तक पहुंचाने का माध्यम बने सीहोर के पंडित प्रदीप मिश्रा के मुखारविंद से इंदौर में 24 से 30 नवंबर तक शिव पुराण कथा का आयोजन किया गया है । इस कथा को व्यवस्थित पांडाल में बैठकर एक साथ डेढ़ लाख लोग सुन सकेंगे । इस आयोजन को शहर का पहला सबसे भव्य आयोजन बनाने के लिए तैयारियां अंतिम चरण में चल रही है ।

यह जानकारी इस आयोजन के सूत्रधार विधायक संजय शुक्ला ने आज यहां पत्रकारों से चर्चा करते हुए दी । उन्होंने बताया कि पंडित प्रदीप मिश्रा के द्वारा शिव पुराण कथा के माध्यम से भगवान शिव की महिमा को जन-जन तक पहुंचाने का काम किया जा रहा है । आज तो हालत यह है कि घर घर में महिलाएं लाइव प्रसारण से टीवी चैनल के माध्यम से पंडित प्रदीप मिश्रा जी की कथा का श्रवण कर रही है ।

इस कथा में उनके द्वारा जीवन की समस्याओं के समाधान के लिए बताए जा रहे शिव भक्ति के कार्य कर रही है । इंदौर में विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 1 के अंतर्गत आने वाले दलाल बाग मे पंडित प्रदीप मिश्रा जी की शिव पुराण कथा का आयोजन 24 से 30 नवंबर तक किया गया है । इस आयोजन को शहर का पहला सबसे बड़ा और सबसे व्यवस्थित आयोजन बनाने के लिए तैयारी की जा रही है । यह तैयारियां अब अंतिम चरण में हैं ।

विधायक शुक्ला ने बताया कि इस कथा के लिए दयालबाग में 4 लाख वर्ग फीट का विशाल शामियाना बनाया गया है । इस शामीयाने में एक साथ डेढ़ लाख लोगों के बैठने की व्यवस्था है । शामियाने में बिजली , पंखे आदि भी व्यवस्थित तरीके से लगाए गए हैं । इस कथा के लिए 100 बाय 400 फीट का मेन डोम बनाया गया है । यह डोम बनकर तैयार हो गया है । इस दलाल बाग में लोगों के बैठने की क्षमता कम थी । यहां पर स्थान कम था ।

हमारे द्वारा इस कथा के आयोजन के लिए पिछले 15 दिन से इस जगह को विस्तारित करने का काम किया जा रहा है । इस मैदान के एक क्षेत्र में उबड़ खाबड़ जमीन पड़ी हुई थी जिसका उपयोग किसी भी आयोजन में नहीं हो पाता था । हमने उस जमीन की भराई करवा कर उसे समतल जमीन के रूप में तैयार करवा लिया है । उस जमीन का उपयोग इस कथा में नागरिकों के बैठने में होगा । कथा स्थल के पूरे क्षेत्र को कवर किया गया है । आयोजन स्थल पर नागरिकों की सुविधा के लिए 125 सुविधाघर का भी निर्माण कराया गया है । इस आयोजन स्थल पर नागरिकों के प्रवेश के लिए 6 द्वार बनाए गए हैं ।

50 एलइडी स्क्रीन पर होगा प्रसारण

शुक्ला ने बताया कि आयोजन स्थल पर अलग-अलग स्थानों पर 50 एलइडी स्क्रीन लगाए जाएंगे । यह स्क्रीन 8 बाय 10 की होंगी । यह स्क्रीन इसलिए लगाई जा रही है ताकि मैदान में किसी भी स्थान पर बैठने वाले नागरिक को न केवल कथा का श्रवण बराबर हो सके बल्कि सबको बेहतर तरीके से नजर भी आ सके । आयोजन स्थल पर 50 स्टाल भी लगाए जाएंगे । इन स्टॉल पर लोगों को पूजा-पाठ की सामग्री वह अन्य वस्तुएं मिल सकेगी ।

रथ से ले जाएंगे आचार्य श्री को

शुक्ला ने बताया कि इस आयोजन के दौरान कथा को हम तक पहुंचाने के लिए आ रहे सीहोर के पंडित आचार्य प्रदीप मिश्रा जी को आयोजन स्थल के मुख्य द्वार से मंच की व्यासपीठ तक रथ के माध्यम से ले जाया जाएगा । इस दौरान भक्तगण करीब से पंडित मिश्रा जी के दर्शन का लाभ भी ले सकेंगे ।

नगर प्रवेश पर निकलेगी शोभायात्रा

शुक्ला ने बताया कि 23 नवंबर को शाम को आचार्य पंडित प्रदीप मिश्रा जी का नगर प्रवेश होगा । वे बाणगंगा से नगर में प्रवेश करेंगे । इस मौके पर बाणगंगा से लेकर आयोजन स्थल दलाल बाग तक शोभायात्रा निकाली जाएगी । इस शोभायात्रा में पंडित मिश्रा जी एक रथ में सवार रहेंगे । मार्ग में कम से कम 251 स्वागत मंचों से इस शोभायात्रा का पुष्प वर्षा कर स्वागत किया जाएगा ।

21000 भक्त करेंगे सुंदरकांड

शुक्ला ने बताया कि शिव पुराण कथा का आयोजन शुरू होने से 1 दिन पूर्व 23 नवंबर को शाम को 7:00 बजे से लालबाग के मैदान पर पंडित प्रदीप मिश्रा जी की उपस्थिति में सुंदरकांड का पाठ होगा । इस संगीत मय सुंदरकांड में 21000 लोग बैठकर एक साथ पाठ करेंगे ।