Indore: भीषण गर्मी की वजह से टुटा 2 साल का रिकॉर्ड, पौने पांच सौ मैगावाट तक पहुंची मांग

इंदौर। भीषण गर्मी में इंदौर शहर की बिजली मांग ने भी दो वर्ष का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। मार्च के अंतिम सप्ताह में शहर की बिजली मांग पौने पांच सौ मैगावाट तक पहुंच गई है। मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी इंदौर के प्रबंध निदेशक अमित तोमर ने बताया कि मार्च में सतत ही शहर की बिजली मांग बढ़ी। मार्च के पहले सप्ताह में अधिकतम मांग 410 मैगावाट थी, मार्च के अंतिम दिनों में यह 475 मैगावाट के करीब पहुंच गई।

ALSO READ: Chardham Yatra 2022: श्रद्धालु आराम से ले सकेंगे चारधाम यात्रा का आनंद, CM धामी ने की समीक्षा

पिछले दो दिनों में एक करोड़ एक लाख और एक करोड़ दो लाख यूनिट की आपूर्ति इंदौर शहर में की गई। प्रबंध निदेशक ने बताया कि इंदौर के साथ ही कंपनी के बड़े शहरों उज्जैन, रतलाम, देवास व अन्य जिला मुख्यालय वाले शहरों में भी मांग एक माह पहले की तुलना में पंद्रह फीसदी तक बढ़ी है।

ALSO READ: Chardham Yatra 2022: श्रद्धालु आराम से ले सकेंगे चारधाम यात्रा का आनंद, CM धामी ने की समीक्षा

दो वर्षों की स्थिति- इंदौर शहर में वर्ष 2020 में मार्च में अधिकतम मांग 420 मैगावाट दर्ज हुई थी, इसी तरह 2021 में मांग 440 मैगावाट तक पहुंची थी। आपूर्ति में वर्ष 2020 में 85 लाख और 2021 में 81 लाख यूनिट की दैनिक आपूर्ति अधिकतम हुई थी।