देश

स्वत्छता के मामले में सख्त हुआ इंदौर, फैक्ट्री व मेडिकल वेस्ट खुले में डालने पर लगा स्पाॅट फाईन

इन्दौर । नगर निगम अब सफाई को लेकर सख्त हो गया है । इसी के चलते शहर के हर झोन पर बडी बडी कार्यवाही कर रहा है । निगम अब जुर्माना भी सुविधा लैस मशीन से वसूल कर रहा है ।
एडिशनल कमिशमर संदीप सोनी ने सफाई व्यवस्था का लगातार निरीक्षण करने व शहर में किसी भी प्रकार से कचरा व गंदगी डालने वालो के साथ-साथ खुले में कचरा डालने वालो के विरूद्ध स्पाॅट फाईन करने के समस्त स्वास्थ्य अधिकारी, सीएसआई, दरोगा को निर्देश दिये गये थे। सोनी द्वारा सफाई व्यवस्था के निरीक्षण के दौरान झोन 3 मल्हाराश्रम स्कुल के पास लगे लिटरबीन के आस-पास कचरा फेला पाये जाने पर संबंधित स्वास्थ्य अधिकारी श जायसवाल को निर्देश दिये गये, इस पर सडक किनारे लगे लिटरबीन मेडिकल वेस्ट से भरा हुआ था व आस-पास भी कचरा फैला हुआ था। लिटरबीन में पडे मेडिकल वेस्ट में पडी रसीद व पेम्पलेटस के आधार पर अरोग्य हाॅस्पिटल का मेडिकल वेस्ट पाया है। उक्त अरोग्य हाॅस्पिटल झोन 4 के अंतर्गत आता है, जिस पर झोन 4 के स्वास्थ्य अधिकारी गौतम भाटिया को मेडिकल वेस्ट फैलाने पर स्पाॅट फाईन करने के सोनी द्वारा निर्देश दिये गये । अफसरो ने अरोग्य हाॅस्पिटल पहुंचकर जानकारी दी गई कि उनके हाॅस्पिटल का मेडिकल वेस्ट लिटरबीन में पाया गया, हाॅस्पिटल प्रबंधक द्वारा बताया गया कि हमारे द्वारा तो नियमित कचरा मेडिकल वेस्ट के वाहनो को ही दिया जाता है, जिस पर जांच करने पर पाया गया कि जिन्हे यह मेडिकल वेस्ट दिया गया था, उसने यह कचरा लिटरबीन में डाल दिया।
इस पर झोन 3 सीएसआई महेश सिकरवार द्वारा मेडिकल वेस्ट लिटरबीन में डाले जाने पर अरोग्य हाॅस्पिटल की डाॅ. अर्चना सिंह पर निगम की हेंडहेल्ड स्वीप मशीन से डेबिट कार्ड के माध्यम से रूपये 5 हजार का स्पाॅट फाईन किया गया। भविष्य में इस प्रकार से मेडिकल वेस्ट या अन्य वेस्ट को निर्धारित वाहनो के माध्यम से ही देने की समझाईश दी गई। निगम द्वारा विगत दिनो ही एक्सिस बैंक के माध्यम से निगम को 10 हेंडहेल्ड स्वीप मशीन उपलब्ध कराई गई थी, जिसके तहत डेबिट व क्रेडिट कार्ड के माध्यम से निगम स्पाॅट फाईन की कार्यवाही का यह पहला मामला है।


इसके साथ ही झोन 3 झोन अधिकारी अश्विन जनवदे ने बताया कि झोन पोलोग्रांउड क्षेत्र में फैक्ट्री का कचरा खुले में फैका गया है। समर्थ क्रिएशन के अजय बजाज द्वारा अपनी फैक्टी के कचरा पोलोग्राउण्ड में फैंका गया है। इस पर सीएसआई द्वारा समर्थ क्रिएशन के अजय बजाज 41 पोलोग्राउण्ड पर रूपये 10 हजार का स्पाॅट फाईन कर राशि वसुल की गई।