भारत व नेपाल कृषि सहयोग के लिए नए एमओयू से होगा फायदा, द्विपक्षीय कृषि में होगी प्रगति

तोमर ने कृषि सहित सभी क्षेत्रों में नेपाल के साथ सहयोग मजबूत करने की बात कही और बताया कि भारत ने कृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों में अनुसंधान तथा विकास के क्षेत्र में काफी प्रगति हासिल की है।

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर एवं नेपाल के कृषि और पशुधन विकास मंत्री महेंद्र राय यादव के बीच आज कृषि भवन, नई दिल्ली में बैठक हुई। इस दौरान तोमर ने भारत की ओर से नेपाल को हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया। साथ ही, दोनों देश कृषि सहयोग के लिए नए समझौता ज्ञापन (एमओयू) को शीघ्र अंतिम रूप देने पर सहमत हुए ताकि विभिन्न द्विपक्षीय कृषि मुद्दों पर तेजी से प्रगति की जा सके।

Must Read- महापौर प्रत्याशी संजय शुक्ला ने व्यापारियो से किया सीधा संवाद, समस्याओं से निजात दिलाने की कही बात

द्विपक्षीय बैठक में केंद्रीय मंत्री  तोमर ने नेपाल के प्रतिनिधियों का स्वागत करते हुए कहा कि भारत और नेपाल के बीच घनिष्ठ और मैत्रीपूर्ण संबंध हैं, जो सदियों पुराने ऐतिहासिक तथा सांस्कृतिक संबंधों, खुली सीमा एवं गहन लोक संपर्क से स्पष्ट रूप से प्रकट होते हैं। तोमर ने कृषि सहित सभी क्षेत्रों में नेपाल के साथ सहयोग मजबूत करने की बात कही और बताया कि भारत ने कृषि एवं संबद्ध क्षेत्रों में अनुसंधान तथा विकास के क्षेत्र में काफी प्रगति हासिल की है। तोमर ने कहा कि भारतीय कृषि प्रणाली से, जब भी आवश्यकता हो, नेपाल सीख सकता है ।


नेपाल के मंत्री यादव ने तोमर को धन्यवाद देते हुए दोनों देशों के बीच सौहार्दपूर्ण और मैत्रीपूर्ण संबंधों को दोहराया। उन्होंने, कृषि मंत्री तोमर से कृषि प्रौद्योगिकी क्षेत्र, मुर्रा भैंस की किस्म, बार्डर पॉइंट्स संगरोध मुद्दों को हल करने और पशु वैक्सीन की आपूर्ति आदि में सहयोग प्रदान करने का अनुरोध किया। तोमर ने नेपाल के प्रतिनिधिमंडल को उनके द्वारा उठाए गए मुद्दों के शीघ्र समाधान का आश्वासन दिया। तोमर ने भारत आने के लिए नेपाल के मंत्री व अन्य प्रतिनिधियों को धन्यवाद दिया और आई.एफ.ए.डी. प्रेसीडेंसी के लिए भारत की उम्मीदवारी के लिए नेपाल के समर्थन का अनुरोध किया।
*