Honey Trap:  खूबसूरती के जाल में फंसा सेना का जवान, पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी के लिए करने लगा जासूसी

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI की एजेंट लड़कियां हनी ट्रैप एजेंट बनकर बॉलीवुड थीम पर रील्स बनाकर जवानों को भेजती थी और जवान भी उनके जाल में फस में फस जाते।

भारतीय सेना के जवान प्रदीप कुमार ने हाल ही में कुछ चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। इंटेलिजेंस की जांच पड़ताल में पाकिस्तानी लड़की की फोटोस और वीडियोस भी सामने आए हैं। आपको बता दे कि जासूसी के आरोप में गिरफ्तार भारतीय सेना के जवान प्रदीप कुमार ने कुछ खुलासे किए, जिसके जांच पड़ताल की जा रही है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI की एजेंट लड़कियां हनी ट्रैप एजेंट बनकर बॉलीवुड थीम पर रील्स बनाकर जवानों को भेजती थी और जवान भी उनके जाल में फस में फस जाते।

Must Read- पूल पार्टी में Hina Khan का बॉयफ्रेंड संग रोमांटिक अंदाज, तस्वीरें वायरल
आपको बता दें कि आईएसआई एजेंट लड़कियां कभी लीना शर्मा तो कभी रिया शर्मा या फिर अन्य नामों से इंस्टाग्राम पर एक्टिव रहती और कई नामों से जवानों को अलग-अलग वीडियो बनाकर भेजती रहती थी। इस दौरान राजस्थान के जोधपुर में तैनात उत्तराखंड के जवान प्रदीप कुमार के मोबाइल में भी कुछ वीडियो और फोटो मिले हैं। जिससे इस मामले की पुष्टि हुई है, पाकिस्तानी लड़कियां नहाते हुए से लेकर गाना गाते हुए वीडियो और फोटो ISI की लड़की ने इंडियन आर्मी के जवान को भेजें। लेकिन चौंकाने वाली बात यह है इस तरह के फोटोज और वीडियोज भेज कर पाकिस्तानी लड़कियां कई भारतीय जवानों को अपने जाल में फंसा चुकी है। गिरफ्तार जवान से पाकिस्तानी लड़की ने शादी करने का वादा किया था और हर महीने मिलने का भी वादा करती। लड़की ने जवान को दिल्ली में भी मिलने के लिए बुलाया था। लेकिन अब पाकिस्तानी लड़की का पर्दाफाश हुआ और उसका वीडियो भी सामने आया है जिसके जरिए वह जवानों को अपने जाल में फसाती थी।

 

Must Read- बिजली मंत्रालय Discoms के बकाए को खत्म करने की स्कीम पर कर रहा काम, Consumer को बड़ी मिलेगी राहत

इंटेलिजेंस के निगरानी में यह मामला सामने आया है कि सेना का जवान प्रदीप कुमार पाकिस्तान महिला एजेंट से सोशल मीडिया के जरिए लगातार संपर्क में रहता और सामरिक महत्व की सूचनाएं दी भेज रहा है। हालांकि जवान की इस हरकत पर कार्यवाही करते हुए उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। जिसके बाद लगातार नई बातें सामने आ रही है और नए-नए खुलासे हो रहे हैं। राजस्थान इंटेलिजेंस डीजी उमेश मिश्रा ने बताया कि भारतीय सेना में 3 साल पहले ही 24 साल का प्रदीप कुमार भर्ती हुआ था और  कृष्णा नगर गंग नहर उत्तराखंड का रहने वाला है। ट्रेनिंग के बाद प्रदीप की पदस्थापना गनर के पद पर हुई थी, जिसके बाद आरोपी प्रदीप की पोस्टिंग अति संवेदनशील रेजिमेंट 881 जोधपुर में हुई। जांच पड़ताल करने पर कई सुराग हाथ लगे, जिसमें पाकिस्तानी लड़की ने नाम बदलकर करीब 6 से 7 महीने पहले जवान के फोन पर कॉल किया, जिसके बाद व्हाट्सएप पर चैट, वीडियो कॉल, वॉइस कॉल पर इनकी बातें होने लगी और जवान हनी ट्रैप के जाल में फस गया।

Must Read- Urdu Javed Struggle: ‘टीवी इंडस्ट्री’ को लेकर ऊर्फी जावेद ने कही ये बात…
आरोपी प्रदीप कुमार ने हनी ट्रैप में फस कर कार्यालय से कई गोपनीय दस्तावेज की फोटो चोरी-छिपे अपने मोबाइल से खींचकर पाकिस्तानी जासूस लड़की को भेज दिए। लेकिन आरोपी के मोबाइल फोन की जांच की तो कई तथ्य सामने आए। जिसके बाद आरोपी प्रदीप के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया गया। जासूस लड़की खुद को ग्वालियर की रहने वाली और एक बड़ी मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब करने की बात कहती थी और प्रदीप से मिलने और शादी का वादा भी करती।  आरोपी को झांसे में रखकर महिला ने कई गोपनीय दस्तावेजों के फोटो मंगवाने शुरू किए। जिसके बाद भारतीय सेना का जवान लड़की के जाल में फस गया और कार्यालय के दस्तावेजों की फोटो पाकिस्तानी जासूस लड़की को भेजने लगा।