हरियाणा: किसान महापंचायत के पहले सस्पेंड हुई इंटरनेट सेवाएं

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन अभी भी जारी है। जिसके चलते अब सियासत भी इस मामले में और गर्माने लगी है। बता दें कि, किसान अब जगह-जगह किसान महापंचायत का आयोजन कर रहे हैं। इसी कड़ी में अब किसानों ने हरियाणा के करनाल में सात सितंबर को महापंचायत का ऐलान किया है। किसानों की महापंचायत को देखते हुए हरियाणा सरकार ने करनाल और उसके चार पड़ोसी जिलों में इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी हैं। बता दें कि, 6 सितंबर की दोपहर 12.30 बजे से 7 सितंबर की रात 11.59 बजे तक करनाल में इंटरनेट सेवाएं बंद रहेंगी।

ALSO READ: देवी अहिल्या मानवता का ऐसा प्रकाश स्तंभ है जिनका व्यक्तित्व सदियों तक राह दिखाएगा

मिली जानकारी के मुताबिक, हरियाणा सरकार ने मंगलवार को करनाल जिले में किसान महापंचायत के आह्वान को देखते हुए कानून व्यवस्था के लिहाज से इंटरनेट सेवाएं निलंबित करने के निर्देश दिए हैं। एक सरकारी प्रवक्ता ने इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि करनाल में आयोजित किसान महापंचायत के कारण कानून व्यवस्था में बाधाएं उत्पन्न हो सकती हैं। इंटरनेट सेवाओं के दुरुपयोग की आशंका है।

उन्होंने कहा कि मोबाइल फोन के जरिए सोशल मीडिया के माध्यम से अफवाह का प्रसार हो सकता है जिससे सार्वजनिक संपत्ति और सुविधाओं को नुकसान हो सकता है। से देखते हुए करनाल के साथ ही उसके पड़ोसी कुरुक्षेत्र, पानीपत, कैथल और जींद जिले में भी इंटरनेट सेवाएं सस्पेंड कर दी गई हैं। करनाल में सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रदेश के गृह विभाग के सचिव ने दूरसंचार सेवाओं के अस्थायी निलंबन (सार्वजनिक आपातकाल या सार्वजनिक सुरक्षा) नियम, 2017 के नियम-2 के आधार पर प्रदान की गई शक्तियों का उपयोग करते हुए मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद करने का निर्देश दिया है।