apps danger for smartphone

नई दिल्ली: इन दिनों साइबर अटैक का खतरा बहुत बढ़ गया है। हाल ही में सरकार ने 59 एप्स को बैन किया है। कई बार हमे पता नहीं होता और हम ऐसे एप्स यूज कर रहे होते है जो सुरक्षा के नजरिये से हमारे लिए खतरा है। इसी बीच गूगल ने सुरक्षा के मद्देनजर प्ले स्टोर से 25 एप्स को डिलीट किया है।

गूगल ने ये कदम साइबर सिक्योरिटी फर्म एविना के अलर्ट किए जाने के बाद उठाया है, जिसमें बताया गया था कि इन ऐप्स में मैलवेयर है। एप्स मैलवेयर के ज़रिए यूज़र्स के फेसबुक लॉगइन डिटेल का रिकॉर्ड रख रखी थीं। ऐसा वह तब कर रही थी, जब यूज़र फोन से फेसबुक लॉगइन करते थे।

जानकारी के मुताबिक, ऐप के टोटल डाउनलोड 2 मिलियन हैं, यानी कि इसे 20 लाख बार डाउनलोड किया गया है। इन ऐप्स में कई पॉपुलर ऐप्स भी मौजूद है, जिसमें फाइल मैनेजर, फ्लैशलाइट, वॉलपेपर मैनेजमेंट, स्क्रीनशॉट एडिटर और वेदर ऐप शामिल है।

गूगल ने इन 25 एप्स को फोन से डिलीट करने की सलाह दी है-

  • Super Wallpapers Flashlight (करीब 5 लाख डाउनलोड)
  • Padenatef करीब 5 लाख डाउनलोड)
  • Wallpaper Level (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Contour level wallpaper (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Iplayer और iwallpaper (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Video maker (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Color Wallpapers (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Pedometer (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Powerful Flashlight (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Super Bright Flashlight (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Super Flashlight (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Solitaire game (1 लाख से ज़्यादा डाउनलोड)
  • Accurate scanning of QR code (50 हज़ार के करीब डाउनलोड)
  • Classic card game (50 हज़ार के ज़्यादा डाउनलोड)
  • Junk file cleaning (50 हज़ार के ज़्यादा डाउनलोड)
  • Synthetic Z (50 हज़ार के ज़्यादा डाउनलोड)