विदेशों का ट्रैफिक अच्छा है कहने से नहीं, उन अच्छी आदतों को सीखने से सुधरेगा ट्रैफिक

इंदौर। सड़क सुरक्षा तथा लोगों में यातायात नियमों के प्रति जागरूकता लाने हेतु इंदौर पुलिस द्वारा विभिन्न संगठनों के साथ लगातार नित नए प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में आईशर ग्रुप फाउंडेशन के इनिशिएटिव सेफर रोड बैटर इंदौर के अंतर्गत इंदौर पुलिस विभाग के तत्वाधान में रिजर्व इंदौर मध्य प्रदेश संगठन ने ‌सड़क सुरक्षा व यातायात नियमों की जागरूकता पर गीत प्रतियोगिता का आयोजन कल दिनांक 08.01.22 को प्रीतमलाल दुआ सभागृह में किया गया।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि की भूमिका मनीषा पाठक सोनी एडिशनल डीसीपी (हेड क्वार्टर) इंदौर एवं अध्यक्षता डॉ प्रशांत चौबे एडिशनल डीसीपी (इंटे/सु.) ने की। विशेष अतिथि आईसर ग्रुप फाउंडेशन के तनवीर जावेदी की उपस्थिति में रिजर्व इंदौर ग्रुप की सेक्रेटरी सुश्रीआरती मौर्य, सहायक राकेश शर्मा, उमिया विद्यालय की प्रिंसिपल बबीता हार्डिया, आईएटीवी एजुकेशनल एकैडमी की प्रिंसिपल शुभा मैडम सभी की उपस्थिति में सॉन्ग कंपटीशन आयोजित किया गया। प्रतियोगिता अंतर्गत प्रथम चरण में 50 सॉन्ग ऑडियो के माध्यम से पार्टिसिपेट किया। सेकंड राउंड में ऑनलाइन/ऑफलाइन 30 स्टूडेंट का प्रदर्शन हुआ, जिसमें से फाइनल राउंड में 10 स्टूडेंट ने अपनी प्रस्तुतियां दी। सिंगल सॉन्ग कैटेगरी में पूर्वी सिन्हा आईएटीवी एजुकेशनल एकेडमी ने प्रथम स्थान तथा दिल्ली पब्लिक स्कूल द्वितीय रहा।

must read: पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट की पहली महिला न्यायाधीश होगी आयशा ए मलिक

ग्रुप सॉन्ग में प्रथम स्थान पर जसमीत ग्रुप देवी अहिल्या शिशु विहार तथा द्वितीय स्थान इंदौर के एसपीसी विद्यालयों में भागीरथपुरा और शासकीय पिपलिहाना विद्यालय को मिला। प्रोत्साहन पुरस्कार मिला महक खान ग्रुप सरदार पटेल स्कूल भोपाल को। विशेष प्रस्तुति गीत के रूप में डॉ आरती वर्मा चोइथराम कॉलेज नेत्रालय की रही, इन सभी स्टूडेंट्स ने बहुत ही सुंदर तरीके से सुमधुर गीतों के माध्यम से यातायात नियमों के प्रति जागरूक किया। इसके साथ ही डीआरपी लाइन इंदौर के आरक्षक अंकित ने विशेष प्रस्तुति के द्वारा स्वरचित कविता के माध्यम से लोगों को यातायात नियम की समझाइश दी गई । सभी प्रतिभागियों की तारीफ अतिथियों द्वारा की गई।

इस अवसर पर श्रीमती मनीषा पाठक सोनी द्वारा कहा गया कि लंबी आयु जीने के लिए क्या करना पड़ता है बताइए सभी ने अपनी राय बताई। इस पर उन्होंने कहा कि, जी हां यह सब तो करना ही है पर लंबी आयु जीने के लिए सड़क पर अनुशासन के साथ आयात नियमों का पालन करते हुए सुरक्षित और सुव्यवस्थित चलना भी बहुत ज्यादा जरूरी है तभी हम लंबीआयु तक जीने की इच्छा पूरी कर सकते हैं।

कार्यक्रम अध्यक्ष डॉ प्रशांत चौबे ने कहा सिर्फ विदेश का ट्रैफिक अच्छा है कहने से नहीं, बल्कि उन अच्छी आदतों को सीखने से हमारे शहर व देश में परिवर्तन आएगा। क्योंकि हमारे देश में सर्वाधिक रोड एक्सीडेंट से लोगों की मृत्यु होती हैं, जिससे हमें कम करना होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि जो प्रयास आईसर ग्रुप फाउंडेशन व आर आई ग्रुप आज के इन युवा और स्कूली छात्रों के साथ कर रहे हैं, प्रशंसनीय है। यह गीत कंपटीशन के माध्यम से जो संदेश दिया जा रहा है निश्चित एक दिन परिवर्तन लाएगा और शहर सड़क दुर्घटनाओं में कमी वाला नंबर वन शहर कहलाएगा।

वहीं विशेष अतिथि के रुप में आईसर ग्रुप फाउंडेशन के प्रोजेक्ट मैनेजर तनवीर जावेदी द्वारा यह कहां गया जिस प्रकार सुरक्षित यातायात के लिए सरकार चिंतित है, सड़क दुर्घटना घायल व्यक्ति की जान बचाने वाले को पुरस्कृत कर रही है, उसी प्रकार आईसर ग्रुप फाउंडेशन भी प्रयासरत है। इस प्रकार की प्रतियोगिताओं के माध्यम से लोगों में स्वयं की सुरक्षा के लिए जागरूक करने के लिए सेफर रोड बेटर इंडिया रोड इंस्टाग्राम पेज पर कई प्रकार की कविता, ड्राइंग, ड्रामा प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता रहा है और आगे भी किया जाता रहेगा। इसके माध्यम से सभी लोग एक दूसरे को जागरूक करते हैं और पुरस्कार प्राप्त करते हैं।

आईसर ग्रुप फाउंडेशन ने संकल्प लिया है कि हमारे देश में रोड एक्सीडेंट में कमी लाए जाने के लिए हमेशा प्रयासरत रहेंगे।

उक्त प्रतियोगिता में दिल्ली पब्लिक स्कूल, प्रज्ञा हाई सेकेंडरी स्कूल, विंध्या अंजली स्कूल, चोइथराम लॉ कॉलेज, किड्स कॉलेज स्कूल, भागीरथपुरा स्कूल एसपीसी, पिपलिहाना स्कूल एसपीसी, देवी अहिल्या शिशु विहार स्कूल, मानपुर नवोदय एसपीसी स्कूल के साथ ही भोपाल, रतलाम , उज्जैन , धार देवास, सीहोर स्कूलों छात्रों ने भी भाग लेकर, पूरे जोश व उत्साह के साथ आता है जागरुकता के इस मंच से अपनी प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम के अंतर्गत 50 प्रतिभागी व समस्त विद्यालय के प्राचार्य शिक्षक उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन आरती मौर्य द्वारा किया गया तथा आभार राकेश शर्मा द्वारा व्यक्त किया गया।