नई दिल्ली। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के विलमिंग्टन स्थित घर की करीब 12 घंटों तक संघीय जांच ब्यूरो (FBI) ने तलाशी ली। बताया जा रहा है कि अमेरिकी न्याय विभाग की छापेमारी के दौरान बाइडन के घर से छह और गोपनीय दस्तावेज मिले हैं जिसे कब्जे में ले लिया गया है। विभाग ने बाइडन के कुछ हस्तलिखित नोट भी अपने कब्जे में लिए।

राष्ट्रपति जो बाइडन के निजी वकील बॉब बाउर (private attorney bob bauer) ने जानकारी देते हुए बताया कि यह तलाशी करीब 12 घंटे तक चली। मिली जानकारी के मुताबिक वकील बॉब बाउर ने बताया कि जो बाइडन ने संघीय जांच ब्यूरो को अपने घर की तलाशी लेने की स्वेच्छा से अनुमति दी, लेकिन तलाशी वारंट नहीं होने के बावजूद यह घटना असाधारण है।

Also Read – केंद्र कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, 18 महीने के DA एरियर के भुगतान पर आया सरकार का फैसला

जो बाइडन के वकील बॉब बाउर ने बताया कि संघीय जांच ब्यूरो (FBI) ने जिन दस्तावेजों को कब्जे में लिया है, वे बाइडेन के सीनेटर एवं उपराष्ट्रपति के तौर पर उनके कार्यकाल से संबंधित हैं, जबकि नोट उनके उपराष्ट्रपति कार्यकाल (vice presidential term) के हैं। इन दस्तावेजों का मिलना राष्ट्रपति जो बाइडन के लिए ऐसे समय में राजनीतिक जवाबदेही बन गया है, जब वह फिर से चुनाव लड़ने के लिए अपनी दावेदारी पेश करने की तैयारी कर रहे हैं।

जो बाइडन ने 1973 से 2009 तक सीनेटर के तौर पर सेवाएं दी थीं। जो बाइडन ने गुरुवार को कहा था, हमने पाया कि बड़ी संख्या में दस्तावेज गलत जगह पर हैं, तो हमने उन्हें तत्काल न्याय मंत्रालय को सौंप दिया। बता दे कि जो बाइडन के डेलावेयर के विलमिंगटन स्थित घर से छह और गोपनीय दस्तावेज बरामद किए हैं। उनमें से कुछ डॉक्युमेंट्स में अमेरिकी सीनेट में बाइडेन के कार्यकाल का जिक्र है। डॉनल्ड ट्रम्प के घर से कुछ गुप्त क्लासिफाइड फाइलें मिली हैं जिसके बाद से उनके ऊपर जांच का खतरा मंडराने लगा है।