लखनऊ। मुलायम सिंह (Mulayam Singh Yadav) की छोटी बहू अपर्णा (Aparna Yadav) ने भले ही भाजपा का दामन थाम लिया हो लेकिन उन्होंने अपने ससुर मुलायम से आशीर्वाद लेना भूला नहीं। अपर्णा (Aparna Yadav) ने मुलायम (Mulayam Singh Yadav) के चरण छुएं तो मुलायम ने भी आशीर्वाद देते हुए कहा – खुश रहो। बता दें कि हाल ही में अपर्णा ने सपा को छोड़कर भाजपा में शामिल होने का ऐलान किया था। मुलायम सिंह से आशीर्वाद लेने की चर्चा सोशल मीडिया पर इसलिए भी हो रही है क्योंकि अपर्णा ने खुद ही यह तस्वीर ट्वीटर पर पोस्ट की है।समर्थकों का कहना-नेताजी भी चाहते है भाजपा

यह बात अलग है कि नेताजी अर्थात मुलायम सिंह (Mulayam Singh Yadav) यूपी में अपने बेटे अखिलेश को मुख्यमंत्री का ताज पहने हुए देखना चाहते है और वे कदापि नहीं चाहेंगे कि उनकी घोर विरोधी भाजपा की सरकार यूपी में बने लेकिन जो तस्वीर अपर्णा (Aparna Yadav) ने पोस्ट की है उससे भाजपा समर्थक उत्साहित है और अपने कमेंट्स कुछ यूं कर रहे -मुलायम भी चाहते है कि यूपी में भाजपा की सरकार बने तथा वे अपनी छोटी बहू को सफल राजनेता बनने का आशीर्वाद दे रहे है। बता दें कि अपर्णा ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करने के बाद लखनऊ  जाकर नेताजी का आशीर्वाद लिया।

Also Read – दिल्ली: अमर जवान ज्योति का स्मारक में विलय, नेताजी की की प्रतिमा का होगा अनावरण

सपा को नुकसान होगा या फिर..
बता दें कि यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Elections) के ऐन वक्त पर सूबे में दल बदलने का सिलसिला जोरों पर जारी है। चाहे कांग्रेस हो या फिर भाजपा या फिर समाजवादी पार्टी ही क्यों न हो संबंधित दलों के नेता अपना दल बदलकर अन्य दलों के साथ जा रहे है। सपा से ही अपर्णा (Aparna Yadav) ने भी भाजपा की सदस्यता ले ली है। यूपी में सपा की स्थिति अभी चाहे कुछ भी दिखाई दे रही हो लेकिन चुनाव में सपा सत्ता में आने के लिए पूरा जोर लगाने की शुरूआत कर चुकी है। राजनीति के जानकार  अपर्णा का सपा को छोड़ने वाले मामले को सपा के लिए नुकसान बता रहे है क्योंकि अपर्णा सपा की कोई सामान्य सदस्य या पदाधिकारी नहीं थी बल्कि सपा के कर्णधार मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) की छोटी बहू है। इसका फायदा भाजपा निश्चित ही यूपी में उठाएंगी।