महाराष्ट से गुजरात जा रही शेयरिंग कैब में एक महिला से कैब ड्रायवर और साथी यात्रियों ने उक्त छेड़खानी की कोशिश की हैं.छेड़खानी में नाकामयाब होने पर महिला की 10 महीने की बेटी को चलती गाड़ी से बाहर फेंक दिया. जिससे उक्त घटित घटना में बच्ची मौके पर ही दम तोड़ दिया। और इसी के साथ ही आरोपियों ने बाद में महिला को भी चलती गाड़ी से धक्का दे दिया। जिससे गंभीर घायल महिला का अस्पताल में इलाज जारी है.इसमें महिला को भी गंभीर चोट आई हैं. फिलहाल आरोपियों की शिनाख़्त नहीं हुई है. इस मामले में महाराष्ट्र की मांडवी थाना पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है.

Also Read – MP Weather: 15 दिसंबर से सर्दी दिखाएगी रंग, इन जिलों में होगी भारी बारिश, मौसम पर जानें IMD की भविष्यवाणी

मांडवी थाना पुलिस ने घटना के बारे में सुचना दी है. थाने के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पीड़ित महिला के अनुसार उसके साथ यह हादसा पालघर जिले में मुंबई-अहमदाबाद राजमार्ग पर शनिवार की सुबह हुआ.

फरियादी महिला ने पुलिस से कहा, ”वह अपनी 10 महीने की बेटी संग शेयरिंग कैब से वाड़ा तहसील में पेल्हार से पोशेरे लौट रही थी. कैब में उसके अलावा अन्य कई लोग भी मौजूद थे. गाड़ी मुंबई-अहमदाबाद राजमार्ग पर थी, इसी दौरान कार ड्रायवर और साथी यात्रियों ने मेरे साथ छेड़खानी शुरू कर दी.वही फरियादी महिला ने आगे यह भी बताया, ”मैंने छेड़छाड़ का विरोध किया, जिसके कारण एक आदमी ने मेरी 10 महीने की बच्ची को मुझसे छीना और चलती गाड़ी से बाहर फेंक दिया, बाद में मुझे भी गाड़ी से बाहर धक्का दे दिया.”

मासूम की दर्दनाक मौत, महिला अस्पताल में भर्ती

साथ ही पुलिस अधिकारी का यह कहना है कि इस घटना में मासूम बच्ची की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई और तेज़ी से चल रही गाड़ी से बाहर फेंकी गई महिला को गहरी चोट आई हैं. हालांकि घायल महिला का अस्पताल में इलाज जारी है. साथ ही पुलिस का कहना है कि फिलहाल आरोपियों की पहचान नहीं हो सकी है. महिला के हालत में सुधार की स्थिति आने पर आगे कीपूछताछ होगी. अभी पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है. कैब और उसमें सवार यात्रियों के बारे में पता लगाया जा रहा है.