MP Honeytrap Case: हनी ट्रैप मामले डॉक्टर को फंसाया गया, मांगे 9 लाख रुपए

देवास। जिले से हनी ट्रैप का मामला सामने आया है। जिसमें एक निजी नर्सिंग होम के संचालक डॉक्टर ने 11 पेज का शिकायत आवेदन सिटी कोतवाली थाने में दर्ज करवाया है। इस मामले में भीलवाड़ा निवासी एक महिला के अलावा दो डॉक्टर के खिलाफ केस दर्ज किया गया। आरोपियों के खिलाफ धारा 384, 120 बी के तहत केस दर्ज किया गया।

पीड़ित डॉक्टर पवन कुमार चिल्लोरिया का आरोप है कि उन्हें ब्लैकमेल कर हनी ट्रैप मामले में फंसाकर 9 लाख रूपए मांगे गए व धमकियां दी जा रही थी।

Also Read: Amazon Prime Video, रणवीर कपूर की फिल्म ‘शमशेरा’ ओटटी प्लेटफार्म पर हुई रिलीज़

डॉक्टर की शिकायत पर भीलवाड़ा निवासी एक महिला, देवास निवासी डॉक्टर संतोष दबाड़े, टोंकखुर्द निवासी डॉक्टर महेंद्र गालोधिया के खिलाफ केस दर्ज किया गया।
SP डॉक्टर शिव दयाल सिंह का कहना फरियादी डॉक्टर पवन कुमार चिल्लोरिया की शिकायत पर FIR दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है बताया जा रहा है पीड़ित डॉक्टर से करीब ₹ 9 लाख ऐंठे गए हैं फिलहाल तीन आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।