भक्ति भाव से दर्शनार्थी कर रहे हैं भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन, जिला प्रशासन की व्यवस्थाओं की हो रही तारीफ

वर्ष में सिर्फ एक बार नागपंचमी के दिन महाकालेश्वर के शीर्ष पर विराजित भगवान नागचंद्रेश्वर के पट खुलते है. इस दिन बड़ी संख्या में दर्शनार्थी भगवान के दर्शन करने पहुंचते हैं.

उज्जैन: सावन के महीने में वर्ष में सिर्फ एक बार नागपंचमी के दिन महाकालेश्वर के शीर्ष पर विराजित भगवान नागचंद्रेश्वर के पट खुलते है. इस दिन बड़ी संख्या में दर्शनार्थी भगवान के दर्शन करने पहुंचते हैं. इस वर्ष भी 1 अगस्त की रात 12 बजे विधि विधान से पूजन करने के बाद आम दर्शनार्थियों के लिए दर्शन शुरू किए गए. हजारों की संख्या में दर्शनार्थी यहां कतार में खड़े हुए थे.

आज दोपहर 12 बजे भगवान नागचंद्रेश्वर की शासकीय पूजा की गई. ये पूजा संभागायुक्त संदीप यादव , आईजी संतोष कुमार सिंह ,कलेक्टर आशीष सिंह व पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र कुमार शुक्ल द्वारा सपत्नीक की गई. पूजन महंत विनीत गिरी महाराज एवं अन्य पुजारियों ने सम्पन्न करवाई.

Must Read- सातवां वेतन आयोग: कर्मचारियों को होने वाला है ट्रिपल फायदा, खाते में आएगा इतना पैसा!

दर्शन के लिए प्रशासन की तरफ से माकूल व्यवस्था की गई है जिसकी दर्शनार्थी तारीफ करते दिखाई दिए. बहुत भीड़ होने बाद भी सुगम तरीके से दर्शन हो रहे हैं. दर्शनार्थियों का कहना है कि उचित व्यवस्था के साथ पुलिस और सुरक्षाकर्मियों का व्यवहार भी सहयोगपूर्ण है.

रतलाम जिले के ताल से आए दर्शनार्थी रमेश ने बताया कि उन्हें भगवान नागचंद्रेश्वर के दर्शन 2 घंटे में सुगमता से हो गए. मार्ग में उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं हुई. कई स्थानों पर पानी पीने की व्यवस्था एवं अन्य सुविधाएं जिला प्रशासन द्वारा की गई हैं, जो सराहनीय है. दिल्ली के गाजियाबाद से आए विमल ने बताया कि यहां की साफ सफाई व्यवस्था देखकर बहुत ही प्रसन्नता हुई, उन्हें 1 घंटे में ही दर्शन मिल गए.