कोरोना की रफ्तार तेज, देश की राजधानी दिल्ली सहित इन राज्यों में बढ़ रहे है मामलें

दिल्ली में बीते सप्ताह से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है। 31 जुलाई को राजधानी में कोविड-19 के 1,263 नए मामले दर्ज किए गए है। यहा पर संक्रमण दर 9 फीसदी से ज्यादा हो गई है।

दिल्ली में बीते सप्ताह से कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है। 31 जुलाई को राजधानी में कोविड-19 के 1,263 नए मामले दर्ज किए गए है। यहा पर संक्रमण दर 9 फीसदी से ज्यादा हो गई है। लगातार पांचवे दिन कोरोना के एक हजार से अधिक के मामले आए है। इसके साथ ही लगातार नौवें दिन दिल्ली में संक्रमण दर 5 फीसदी से ज्याादा है। इससे पहले दिल्ली में 26 जून को 1,891 मामले दर्ज किए गए थे।

दिल्ली में शनिवार को संक्रमण के 1,333 केस मिले थे। ये जुलाई महीने में आए एक दिन के मामलों में सबसे ज्यादा थे. इस दिन संक्रमण दर 8.39 प्रतिशत दर्ज की गई थी। इस दिन 3 लोगों की मौत भी कोरोना की वजह से हुई थी। इसने एक दिन पहले शुक्रवार को 7.36 फीसदी संक्रमण दर के साथ 1,245 मामले आए थे। दिल्ली में गुरुवार को 6.56 प्रतिशत की संक्रमण दर के साथ 1,128 मामले दर्ज किए गए थे।

Also Read : इंदौर केन्द्रीय मंत्री ने कहा हम 5 फ्लाई ओवर मंजूर कर रहे है, इंदौर के लोग जादूगर है जमीन खरीद लेंगे

नए मामलों को मिलाकर अब दिल्ली में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 4,509 हो गई है. इनमें से 2,977 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। राजधानी में अब तक कोरोना के 19 लाख 55 हजार 771 मामले आ चुके हैं। वहीं, अब तक 26,311 लोगों की मौत हो चुकी है. दिल्ली के अस्पतालों में कोरोना संक्रमितों के लिए 9,402 बेड आरक्षित हैं. फिलहाल इसमें से 289 बेड पर मरीज भर्ती हैं।

महाराष्ट्र सहित इन राज्यों में बढ़ रहे है कोरोना मामले

राज्यों के हिसाब से कोरोना के मामलों की बात करें तो महाराष्ट्र में 30 जुलाई को 2,087 कोरोना केस दर्ज किए गए थे। वहीं कर्नाटक में 1886 मामले सामने आए थे। तीसरे नंबर पर केरल का नाम था, जहां 1595 कोरोना के मामले मिले थे. तमिलनाडु में 1548 और दिल्ली में 1333 केस सामने आए थे। इन पांच राज्यों से मिले कोरोना केस, देश में कुल कोरोना मामलों का 42.96% फीसदी थे. अकेले महाराष्ट्र की भागीदारी ही 10.61 फीसदी थी।