कांग्रेस में सामूहिक इस्तीफे बोले पवन खेड़ा- नेता चाहते हैं राहुल बने रहें पार्टी अध्यक्ष

0
17

लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद से ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं, लेकिन संगठन के नेताओं द्वारा उन्हे मनाने का सिलसिला लगातार जारी है। जिसके चलते पार्टी के कई पदाधिकारी राहुल गांधी के समर्थन में सामूहिक इस्तीफे दे रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि राहुल गांधी से पार्टी के सभी नेताओं ने पार्टी अध्यक्ष पद पर बने रहने की गुजारीश की है। जिसके चलते प्रत्येक प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर यसे एक प्रस्ताव पारित किया गया है। जिसमे कांग्रेस अध्यक्ष को अपने हिसाब से पार्टी चलाने की बात कही गई है।

खेड़ा ने कहा कि कांग्रेस वर्किंग कमेटी द्वारा भी राहुल गांधी का इस्तीफा नामंजूर कर दिया गया था। उन्होने कहा पार्टी पदाधिकारियों द्वारा सामूहकि इस्तीफे दिए जाने का मतलब है कि वह कांग्रेस के अध्यक्ष बने रहे।

पवन खेड़ा ने कहा, ‘जनता ने भारतीय जनता पार्टी को बड़ा जनादेश दिया है. अब बीजेपी उन्हें उपहार वापस दे रही है। सरकार ने जमा पूंजी पर ब्याज दरों में कटौती की है। छोटी बचत मिडिल क्लास और रिटायर्ड लोगों के लिए बहुत मायने रखती है। अब बीजेपी लोगों की जमा पूंजी नष्ट कर रही है। लोग जमा पूंजी अपने सुरक्षित भविष्य के लिए रखते हैं। कांग्रेस और बीजेपी द्वारा दी जा रही ब्याज दरों में बहुत अंतर है। कांग्रेस चाहती है कि केंद्र सरकार अपने फैसले को वापस ले।’

गौरतलब है कि कांग्रेस में लगातार इस्तीफे दिए जाने का दौर जारी है राहुल गांधी द्वारा इस्तीफे की पेशकाश किए जाने के बाद से ही उनके समर्थन में इस्तीफों की झड़ी लग गई है। जिसके चलते शनिवार को किसान कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने लोकसभा चुनाव में हार की जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। वहीं इससे पहले करीब 120 पार्टी पदाधिकारियों ने राहुल गांधी को अपना इस्तीफा दे दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here