कलेक्टर का बड़ा फैसला, नहीं लगवाई वैक्सीन तो भूल जाओ सैलरी और राशन

एमपी में वैक्सीनेशन को लेकर इन दिनों काफी ज्यादा सख्ती अपनाई जा रही है। वैक्सीनेशन के लिए लगातार अभियान चलाया जा रहा है।

Aashish Singh

एमपी में वैक्सीनेशन (MP vaccination) को लेकर इन दिनों काफी ज्यादा सख्ती अपनाई जा रही है। वैक्सीनेशन के लिए लगातार अभियान (vaccination campaign) चलाया जा रहा है। अभी हाल ही में उज्जैन कलेक्टर ने भी एक बड़ा कदम उठाया है। बताया जा रहा है कि कलेक्टर ने तमाम शासकीय कर्मचारी और राशन कार्ड धारकों के लिए 30 नवंबर तक वैक्सीन की दोनों डोज अनिवार्य कर दिया गया है। आगे ऐसे में भी किसी ने वैक्सीन नहीं लगवाई तो उसे सैलेरी और राशन नहीं दिया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक, उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह (Ujjain collector Ashish Singh) ने अपने आदेश में कहा है कि 30 नवंबर तक वैक्सीन के दोनों डोज (both vaccine doses) नहीं लगवाने वाले शासकीय कर्मचारियों को नवंबर माह की सैलरी नहीं दी जाएगी। साथ ही इन्हें कंट्रोल से राशन लेने वालों को राशन भी नहीं दिया जाएगा। क्योंकि अब सबको वैक्सीन सर्टिफिकेट दिखाना अनिवार्य कर दिया गया है। बिना वैक्सीन सर्टिफिकेट के किसी को भी कही जाने आने की परमिशन नहीं दी जाएगी।

ये भी पढ़ें- Indore News : रेडीमेड वस्त्र व्यापारी संघ का बड़ा फैसला, नहीं लगवाई दोनों डोज़ तो होगी काम से छुट्टी

बताया जा रहा है कि निगम आयुक्त अंशुल गुप्ता ने भी निगम क्षेत्र में आने जाने वाले तमाम प्रतिष्ठानों, होटल, लॉज, धर्मशाला आदि के लिए किया आदेश जारी किया है। इसके मुताबिक, किसी को भी बिना वैक्सीन सर्टिफिकेट के होटल में रूम नहीं दिया जाएगा। साथ ही सामान का लेनदेन भी नहीं किया जाएगा।