CM Kejariwal पर लगा आचार संहिता उल्लंघन का आरोप, होगी FIR

Arvind Kejriwal

चंडीगढ़। दिल्ली की सीएम अरविन्द केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) पर पंजाब चुनाव से एक दिन पहले मुसीबत आन पड़ी है। पहले तो कवी कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) ने सीएम पर आरोपों की बारिश की थी जिसके बाद अब पंजाब चुनाव आयोग ने अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) पर FIR दर्ज करने का आदेश दिया है। दरअसल यह कदम चुनाव आयोग ने शिरोमणि अकाली दल (SAD) की शिकायत के बाद उठाया है। पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी (Chief Election Commissioner of Punjab) ने साहिबजादा अजीत सिंह नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (Sr SP SAS Nagar) को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया है।

ALSO READ: Kumar Vishwas और Kejariwal की जंग में कूदी केंद्र सरकार, कुमार को दी Y श्रेणी की सुरक्षा- Ghamasan.com

आपको बता दें कि, शिरोमणि अकाली दल (Shiromani Akali Dal) ने अरविंद केजरीवाल के ऊपर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप लगाया। साथ ही चीफ इलेक्शन कमीश्नर के पास इस बात की शिकायत की थी। इस दौरान शिअद ने अपने शिकायती पत्र में लिखा था कि अरविंद केजरीवाल अपनी जनसभाओं में दूसरी पार्टियों और उनके नेताओं पर झूठे और मनगढ़ंत आरोप लगाते फिर रहे हैं, जो आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। जिसके बाद इस मामले में एक्शन लेते हुए पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने एसएएस नगर के एसएसपी से अरविंद केजरीवाल पर एफआईआर दर्ज करने को कहा है।

उल्लेखनीय है कि, केजरीवाल पर यह मुसीबत का पहाड़ तब टूटा है जब पंजाब इलेक्शन सर पर चढ़े हुए है। ज्ञात हो कि, पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 (Punjab Assembly Election 2022) के लिए 20 फरवरी को मतदान होना है और इसके बाद 10 मार्च को परिणाम घोषित होंगे। इसी बीच अब शिरोमणि अकाली दल ने मुख्य निर्वाचन अधिकार को एक वीडियो सौंपा, जिसमें कथित तौर पर पंजाब में इस बार झाड़ू (आप का चुनाव चिन्ह) चलने की बात को गाने के तौर पर पेश किया गया है।

ALSO READ: कृषि उपजों में निकली लेवाली, जाने छावनी मंडी में आज के भाव

इस वीडियो में चरणजीत सिंह चन्नी, सुखबीर सिंह बादल और पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तस्वीर का इस्तेमाल करते हुए उन्हें गद्दार बताया है। इसी वीडियो को लेकर पंजाब के चीफ इलेक्शन कमीश्नर ने आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल के पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। साथ ही शिरोमणि अकाली दल के प्रवक्ता अर्शदीप सिंह ने कहा कि एक पार्टी पंजाब में चुनाव लड़ रही है, जिसका काम है जनता को गुमराह करना और झूठ बोलना।

उन्होंने कहा कि, वह पार्टी संवैधानिक संस्थाओं के लिए भी झूठ बोल रही है. सोशल मीडिया पर आम आदमी पार्टी ने एक वीडियो जारी किया था। लेकिन उन्होंने चुनाव आयोग के सामने इसको लेकर झूठ बोला। आम आदमी पार्टी ने इलेक्शन कमीशन के सामने अपनी गलती मानी थी। उन्होंने आगे कहा, लेकिन आम आदमी पार्टी ने सोशल मीडिया पर फिर एक वीडियो जारी किया, जिसमें विपक्षी दलों के नेताओं को लेकर आपत्तिजनक बयानबाजी की गई थी।