प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी नवरात्री पर्व के बाद 5 अक्टूबर को देश भर में रावण का दहन किया गया। हर साल की तरह इस बार भी दशहरे पर रावण का पुतला बनाकर उसे जलाया गया. हालांकि देश भर में कई जगह बारिश के कारण रावण दहन नहीं हो पाया। इसी बीच छत्तीसगढ़ से खबर आयी कि रावण का एक पुतला ऐसा भी रहा जिसके दसों सिर बचे रह गए।

मामला छत्तीसगढ़ का है जहां रावण तो पूरा जल गया, लेकिन उसके 10 सिर जस के तस रह गए। इसके बाद नगर निगम ने मामले में अपने एक कर्मचारी को निलंबित कर दिया गया। दशहरे के अवसर पर धमतरी के रामलीला मैदान में रावण दहन का कार्यक्रम रखा गया था। इसके लिए पुतला बनवाने की जिम्मेदारी सहायक ग्रेड-3 कर्मचारी राजेंद्र यादव और अन्य कुछ कर्मचारियों को दी गई थी। उन्होंने रावण का करीब 30 फीट ऊंचा पुतला बनवाया और कार्यक्रम के हिसाब से रात में रावण के पुतले में आग लगाई गई। आग में रावण के 10 सिरों के अलावा सब कुछ जल गया, जिसके बाद नगर निगम की खूब मज़ाक भी बना।

यहां देखिए रावण दहन का वीडियो

मामले में चार कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर उनसे जवाब मांगा गया है। नगर निगम के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर राजेश पदमवार ने कहा, इस लापहवाही में राजेंद्र यादव को निलंबित करने के साथ-साथ सहायक अभियंता विजय मेहरा, उप-अभियंता लोमास देवांगन, कमलेश ठाकुर और कामता नागेंद्र से जवाब मांगा गया है।

छत्तीसगढ़ के इस रावण दहन का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है इस वीडियो में नगर के सभी लोग रावण दहन को देखने के लिए मौजूद है। नगर निगम द्वारा 30 फ़ीट लम्बा बनाया गया रावण देखते ही देखते जल गया लेकिन इसके 10 सिर नहीं जले।