वर्तमान वक़्त में बहुमूल्यता के चलते एक नौकरी के सहारे खर्च चला पाना तो काफ़ी कठिन हो गया है. ऐसे में हर व्यक्ति आज यही सोचता है कि वह नौकरी के साथ में कोई ऐसा कारोबार भी करे, जिससे उसे कुछ अतिरिक्त कमाई भी होती रहे. अगर हां और आप भी किसी ऐसे ही व्यवसाय की खोज में हैं तो हम आपके लिए एक ऐसा व्यापार का आइडिया लेकर आए हैं, जिसे आप नौकरी के साथ ही प्रारम्भ कर सकते हैं.

सरकार अपनी मुद्रा योजना के अंतर्गत नए कारोबार को शुरू करने के लिए लोन उपलब्ध कराती है. मुद्रा स्कीम के अंतर्गत व्यापार के लिए आवश्यकता की राशि का 75-80 फीसदी तक लोन मिल जाता है. फर्नीचर के व्यवसाय को शुरू करने के बाद से ही आपको प्रॉफिट मिलना शुरू हो जाता है.

असल में, हम वुडन फर्नीचर के व्यवसाय के बारे में चर्चा कर रहे हैं. इस व्यवसाय को शुरू करना बहुत ही सरल है. आजकल बाजार में वुडन फर्नीचर की मांग काफ़ी अधिक बढ़ गई है. आज के इस दौर में हर व्यक्ति घरों में सजावट और फर्नीचर के लिए वुडन आइटम्स को ज्यादा तवज्जों दे रहा हैं. इसलिए ये व्यवसाय आपके लिए काफी ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है. साथ ही केंद्र सरकार की ओर से इस व्यवसाय के लिए आपको लोन भी मिल सकता है. इससे आपकी पूंजी की चिंता भी बिल्कुल दूर हो जाएगी.

Also Read – अपने से 12 साल बड़े नौकर के साथ भागी थी आमिर खान की लाडली आयरा खान, अब उसी से होगी शादी

कैसे मिलेगा इस बिजनेस के लिए लोन

अब सवाल उठता हैं की कैसे मिलेगा लोन तो हम आपको यहां बताने जा रहे है कि केंद्र सरकार अपनी मुद्रा स्कीम के अंतर्गत छोटे व्यवसायियों को नए व्यापार प्रारम्भ करने के लिए लोन मुहैया कराती है.जिसकी सहायता से आपको कारोबार को शुरू करने के लिए आवशयक धन राशि का 75-80 फीसदी तक लोन मिल जाता है. इस योजना का मुनाफ़ा उठाकर कोई भी व्यक्ति सरकार से नया कारोबार शुरू करने के लिए लोन ले सकता है.

अब सवाल उठता हैं की इस कारोबार में खर्च कितना आएगा

तो पढ़िए वुडन फर्नीचर के व्यवसाय को प्रारम्भ करने के लिए आपके पास करीबन 1.85 लाख रुपये की रकम होनी चाहिए. सरकार की मुद्रा योजना के अंतर्गत आपको बैंक से कंपोजिट लोन के अंतर्गत लगभग 7.48 लाख रुपये का लोन मिल सकता है. इसमें आप फिक्स्ड कैपिटल के रूप में 3.65 लाख रुपये और तीन महीने के वर्किंग कैपिटल के लिए 5.70 लाख रुपये की आवश्यकता पड़ेगी