यूपी के बाराबंकी में दहेज का लालची दूल्हा शादी के सात फेरों से पहले ही मंडप से भाग खड़ा हुआ. दूल्हे की इस हरकत से शादी में शामिल लोगों में हड़कंप मच गया.इधर, लड़की रात भर पुलिस से अपने लिए न्याय की गुहार लगाती रही. दुल्हन का कहना है कि ये विवाह नहीं हुआ तो वो आत्महत्या कर लेगी. इस घटना से लड़की का पूरा परिवार ही नहीं बल्कि गांव के लोग भी सदमे में हैं.

बाराबंकी में एक शादी समारोह में उस समय सब लोग हैरान रह गए,जब दूल्हा मंडप से ही भाग खड़ा हुआ. इस घटना पर दुल्हन ने शादी न होने पर पुलिस को आत्महत्या करने की धमकी भी दी. बात न बनने पर लड़की और उसके परिजन पुलिस स्टेशन शिकायत दर्ज कराने पहुंचे। गौरतलब है कि जहांगीराबाद थाना क्षेत्र के गांव के निवासी व्यक्ति की बेटी का विवाह अयोध्या जिले के मवई कस्बे के छोटू के साथ तय हुई थी. शुक्रवार रात दूल्हा जब बारात लेकर लड़की के दरवाजे पहुंचा.फिर बारात आने के बाद तिलक की रस्म शुरू हुई. दुल्हन के पिता का ये भी कहना है कि रीति रिवाज और सारी रस्मों के साथ सोने की अंगूठी और 5 हजार रुपये देकर बेटी की शादी होनी थी, वही इसके अलावा तिलक व खाने के कार्यक्रम के बाद मंडप में फेरों का कार्यक्रम होना भी तय था.

Also Read-फरवरी से शुरू होंगे CBSE 10वीं-12वीं के बोर्ड एग्जाम, जारी होने वाली है डेटशीट

लड़के ने दहेज़ में मांग ली ये चीज

शादी के फेरों से पहले नृतकों के कार्यक्रम में ग्रामीणों और बरातियों में जमकर मारपीट हो गई. इसके बाद शादी के मंडप में पहुंचे दूल्हे ने अपने फेरों से पहले
ही दहेज में कर दी मोटरसाइकिल की मांग।

इस बारात से नाराज़ होकर भागा दूल्हा

इस पर लड़की वालों ने अपनी आर्थिक स्थिति की दुहाई देते हुए लड़केवालो को अपनी असमर्थता भी जताई. वही दहेज की मांग पूरी न होने पर दूल्हे के पिता श्याम लाल शादी के मंडप से बिना फेरों के दूल्हे के साथ बारात लेकर चला गया.वही रात भर दुल्हन लगाती रही गुहार, परिवार का कहना है कि रात करीब 10 बजे पुलिस सूचना पर पहुंची थी लेकिन पुलिस द्धारा कोई कार्रवाई नहीं की गई.इसके बाद देर रात 12 बजे हम लोग थाने जाने लगे तो सिपाही ने रास्ते से हमें ये कहकर लौटा दिया, कि अभी दूल्हा आएगा और शादी होगी, लेकिन दूल्हा नहीं आया. वही लड़की ने अपने साथ न्याय की मांग की। और कहा की मेरी शादी करवा दो नहीं तो मैं आत्महत्या कर लुंगी। वही पुलिस पुरे मामले की जाँच में जुट गई हैं.