Air India : एयर इंडिया के कर्मचारी ने खुदकुशी करने की कोशिश, बेहोशी की हालात में पहुंचाया हॉस्पिटल

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आज बीती देर रात को राजाभोज एयरपोर्ट के अधिकारी ने खुदखुशी करने की कोशिश की

भारत में आम जन से लेकर अधिकारियोें तक आत्महात्य के मामलें लगातार बढ़ रहें है। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आज बीती देर रात को राजाभोज एयरपोर्ट के अधिकारी ने खुदखुशी करने की कोशिश की। इस घटना की जानकारी वहा के अधिकारियों और कर्मचारियो को लगी तो समुचे एयरपोर्ट पर हड़कंप मच गया। वहा मौजूद लोगो को पता चला तो अधिकारी को तुरंत हॉस्पिटल ले जाया गया।

भोपाल राजा भोज एयरपोर्ट पर काम करने वाले CSE पुष्पेन्द्र शर्मा ने गुरूवार देर रात को गाड़ी के दरवाजे बंद कर हीटर चालू करके आत्महत्या करने की कोशिश की। मिली जानकारी के मुताबिक, एयर इंडिया के ITCL अधिकारियों के द्वारा प्रताड़ित करने का करने की वजह से शर्मा ने आत्महात्या करने का रास्ता चुना। राजधानी के गांधी नगर पुलिस थाना में पीड़ित का मामल दर्ज कर लिया हैं।

Also Read : मध्यप्रदेश में अब दुष्कर्मियों,आतंकियों की अब खेर नहीं, आखरी सास तक अब कटनी होगी जेल

पुलिस को मिली ये जानकारी

गांधी नगर पुलिस के मुताबिक, भोपाल राजा भोज के CSE पुष्पेन्द्र शर्मा ने अपनी कार के दरवाजे बंद करके हिटर चालु करके आत्महात्य करने की कोशिश की थी। घटना की जानकारी जैसी ही मिली वहा पर तुरंत पहुंचे। जब शर्मा बेहोश हो रहें थे तो वहा पर खड़े लोगो ने उसे आस्पताल पहुंचाया। अभी हालत नाजुक हैं। पीडित ने बताया कि, एयर इंडिया के ITCL अधिकारियों उसे लगातार परेशान कर रहा था। इसकी वजह से यह कदम उठाना पड़ा।

जानिए क्या है मामला

भोपाल राजा भोज एयरपोर्ट पर काम करने वाले CSE के पद पर काम करने वाले पुष्पेन्द्र शर्मा ने गुरूवार को गाड़ी को बंद कर हीटर चालू कर आत्महत्या करने की कोशिश की। कर्मचारी की तबियत बिगड़ने पर अस्पताल पहुंचाया गया। इस मामले की जाँच के दौरान ये बात सामने आई कि, वह अपने स्टॉफ की प्रताडऩा से परेशान थे। जिसकी सुनवाई कहीं से कहीं तक नहीं हो रही थी, जब उन्हें कोई रास्ता नहीं दिखा तो उन्होंने उन्होंने आत्महत्या करने का मन बनाया। इसके बाद वह दोपहर में अपनी कार में गए और कार का हिटर चालू कर अंदर बैठ गए, जब कार में बैठने के बाद घुटन होने लगी तो वे बेहोश हो गए। हालांकि, वहां बैठे अन्य कर्मचारियों ने उन्हे बेहोश होते देख लिया तो उन्हें कार से निकला कर अस्पताल ले गए।