दिग्विजय बोले- शासकीय कर्मचारियों की पेंशन से 4% कटौती वापस ली जाये

भोपाल : पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सदस्य श्री दिग्विजय सिंह(Digvijay Singh) ने नेशनल पेंशन स्कीम में कर्मचारियों की पेंशन से 4 प्रतिशत राशि ज्यादा काटे जाने को कर्मचारियों के हितों पर कुठाराघात बताया है। इस निर्णय से प्रदेश के साढ़े चार लाख से अधिक कर्मचारी प्रभावित होंगे।

Must Read : अर्बन हाट बना मिनी भारत, शनिवार को “शाम ए गजल” और रविवार को संगीत संध्या आयोजित

कांग्रेस नेता श्री दिग्विजय सिंह(Digvijay Singh) ने कहा कि केन्द्र सरकार ने आगामी वर्ष के बजट में कर्मचारियों के 10 प्रतिशत अंशदान को बढ़ाकर 14 प्रतिशत कर दिया है। जिससे कर्मचारियों को नुकसान होगा। उनके 4 प्रतिशत अधिक राशि काट ली जायेगी।

Must Read : PM मोदी ने नेहरू का जिक्र ऐसे किया कि कांग्रेस के तोते उड़ गए!

कर्मचारियों का कहना है कि सरकार को कर्मचारियों की पेंशन में वृद्धि करने के बाद यह फैसला लेना था। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने केन्द्र सरकार(Central Govt.) से मांग की है कि कर्मचारियों के अंशदान को पूर्ववत 10 प्रतिशत किया जाये तथा पेंशन में वृद्धि करने का फैसला लिया जाना चाहिये।