महाकालेश्वर मंदिर के 2 कर्मचारी निलंबित, जेब में रखी दान पेटी की जगह दान राशि

महाकालेश्वर मंदिर भारत के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है. श्रद्धा और आस्था से भरपूर ये जगह शहर शिव नगरी के नाम से भी जानी जाती है.

उज्जैन : महाकालेश्वर मंदिर भारत के बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक है. श्रद्धा और आस्था से भरपूर ये जगह शहर शिव नगरी के नाम से भी जानी जाती है. पूरे साल यहां भक्तों की भीड़ उमड़ी रहती है, दुनियाभर से यहां लोग ज्योंतिर्लिंग के दर्शन के लिए आया करते हैं. हर साल की शुरूआत ज्यादा तर लोग भगवान का दर्शन कर के ही करते हैं. यहां आने वाले भक्तों को दक्षिणमुखी ज्योतिर्लिंग के दर्शन होते हैं.

अब नया साल आने को है, और इसी बीच विश्व प्रसिद्ध महाकलेश्वर मंदिर में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़नी शुरू हो गई है. श्रद्धालु महाकाल मंदिर में दर्शन करने पहुंच रहे हैं. ऐसे में बड़ी संख्या में श्रद्धालु दान राशि भी भगवन महाकाल को अर्पण कर रहे है. लेकिन इसी दान में अब महाकाल मंदिर के कर्मचारियों की नियत खराब होने लगी है, कर्मचारी दान में दिए जा रहे पैसे में हेराफेरी करने लगे हैं. उन्हें ना भगवान का डर है और ना ही प्रशासन का.

दान पेटी की जगह जेब में गई भक्तों की दान राशि

ताजा मामला रविवार का है, जब काफी भीड़ के बीच बाहर से आये श्रद्धालुओं ने गर्भ के नादर दर्शन करते समय दान पेटी में डालने के लिए कुछ रुपए पंडित को दिए. पंडित ने उक्त दान राशि गर्भ गृह के निरीक्षक कमल जोशी और मुकेश गुजराती को दे दी. वहीं दोनों कर्मचारियों ने दान की राशि को दान पेटी में नहीं डालते हुए अपनी जेब में रख ली. इस बात की शिकायत जब श्रद्धालु ने मंदिर प्रशासन को की, तो प्रशासन द्वारा तुरंत सीसीटीवी खंगाले गए, जिसमें कर्मचारी द्वारा की गई चोरी पकड़ ली गई. इस वजह से दोनों कर्मचारियों को निलंबित कर दिया और पंडित के ऊपर भी जांच बैठा दी गई.