Ukraine vs Russia: छात्रों ने कहा- हम ओर इंतजार नहीं कर सकते

नई दिल्ली: भले ही भारत सरकार द्वारा यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को वापस देश लाने के लिए ऑपरेशन गंगा चलाया जा रहा हो और बड़ी संख्या में वहां से विद्यार्थियों को अपने देश लाया भी गया है

नई दिल्ली: भले ही भारत सरकार द्वारा यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को वापस देश लाने के लिए ऑपरेशन गंगा चलाया जा रहा हो और बड़ी संख्या में वहां से विद्यार्थियों को अपने देश लाया भी गया है, बावजूद इसके कई छात्र अभी  भी वहां फंसे होकर अपने देश लौटने का इंतजार कर रहे है लेकिन इस इतंजार की घड़ी अब ऐसे विद्यार्थियों को सहन नहीं हो रही है।

वीडियो में यह कहा-

बताया गया है कि यूक्रेन के सूमी शहर में अभी भी कई भारतीय छात्र फंसे हुए है। हालांकि भारत सरकार इन छात्रों को बाहर निकालकर वापस देश लाने का प्रयास कर रही है लेकिन परेशान और असुरक्षित विद्यार्थियों ने वीडियो में यह कहा है कि वे बममारी की खबरें लगातार सुन रहे है तथा अब उनसे इंतजार नहीं होता। विद्यार्थियों ने यह भी कहा है कि वे इंतजार नहीं कर सकते है इसलिए बॉर्डर की ओर बढ़ रहे है।

रूस ही सुरक्षित लगा इसलिए पहुंच गए –

युद्ध के कारण यूक्रेन के नागरिक भी अपने ही देश से पलायन कर रहे है। स्थिति यह हो गई है कि 14 लाख से अधिक नागरिकों ने अपना देश छोड़कर पोलैंड में शरण ले ली है। इसके अलावा पचास हजार से अधिक नागरिकों ने रूस को सुरक्षित माना है और इसी देश के विभिन्न शहरों में जाकर शरण ले ली है। बता दें कि यूक्रेन पर रूस ही हमला कर रहा है बावजूद इसके यूक्रेन के अधिकांश नागरिकों को रूस में जाकर अपनी सुरक्षा होने का ज्यादा भरोसा है। गौरतलब है कि यूक्रेन के खारकीव, राजधानी कीव के साथ ही अन्य कुछ शहरों में रूस लगातार बमबारी कर तबाही मचा रहा है। बताया यह भी जा रहा है कि जिन शहरों में रूसी सेना बमबारी कर रही है उन शहरों में भी कई विदेशी नागरिक फंसे हुए है और वे अपने देशों से बाहर निकालने के लिए गुहार लगा रहे है।