टैक्स प्रेक्टिशनर्स एसोसिएशन इंदौर ने अनूठे अंदाज में मनाया स्थापना समारोह, वृद्ध जनों की से आत्मीय मुलाकात

आमतौर पर होने वाले समारोह के स्थान पर टीपीए ने सेवा क्षेत्र में कार्य करके अपना स्थापना समारोह मनाया।

टैक्स प्रेक्टिशनर्स एसोसिएशन इंदौर ने अपना स्थापना समारोह अनूठे अंदाज में मनाया। आमतौर पर होने वाले समारोह के स्थान पर टीपीए ने सेवा क्षेत्र में कार्य करके अपना स्थापना समारोह मनाया। टैक्स प्रैक्टिशनर्स एसोसिएशन के प्रेसिडेंट सीए शैलेन्द्र सिंह सोलंकी ने बताया कि सुबह टीपीए के सदस्यों ने इंदौर के कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय में वृक्षारोपण किया तथा उत्कृष्ट कार्य करने के लिए कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय के ज़ू डायरेक्टर डॉक्टर उत्तम यादव का सम्मान किया।

इसके पश्चात् टीपीए सदस्यों ने परदेशीपुरा स्थित आस्था वृद्धाश्रम में सभी वृद्धजनों को भोजन कराया तथा उसके पश्चात वहीँ भोजन ग्रहण किया। टीपीए के मानद सचिव सीए अभय शर्मा ने बताया कि सभी सदस्यों ने वृद्ध जनों की से आत्मीय मुलाकात की तथा उन्हें लगने वाली जरूरतों तथा वहां उपलब्ध सुविधाओं के बारे में जाना।

सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि सांसद शंकर लालवानी ने बताया कि इंदौर के टैक्स प्रोफेशनल्स पुरे विश्व भर में नाम कमा रहे हैं। उन्होने कहा कि इंदौर अब फॉरेन एकाउंटिंग और टैक्सेशन प्रोसेसिंग का एक बड़ा हब बन गया है। इंदौर के प्रोफेशनल्स न केवल स्वयं अच्छा काम कर रहे हैं वरन समाज को रोजगार भी उपलब्ध करा रहे हैंl उन्होंने कहा कि इंदौर सेंट्रल इंडिया की फाइनेंस कैपिटल होने से यहाँ टैक्स प्रोफेशनल्स के लिए काफी संभावनाएं मौजूद हैं।

इस अवसर पर पूर्व अध्यक्ष एडवोकेट एस के सचदेवा, सीए एस. एस. देशपांडे, सीए पी. डी. नागर, सीए बी. एल. बंसल, सीए गोविन्द बाबु अग्रवाल, सीए राजेंद्र गोयल, एडवोकेट महेश अग्रवाल, सीए एस. एन. गोयल, सीए हितेश मेहता, सीए अनिल खंडेलवाल, सीए विक्रम गुप्ते तथा सीए मनोज गुप्ता का सम्मान प्रशस्ति पत्र एवं शाल श्रीफल के द्वारा किया गया l

पूर्व अध्यक्ष एडवोकेट महेश अग्रवाल ने टीपीए की 64 वर्षों की गाथा के बारे में वर्णन करते हुए बताया कि कैसे 1958 से शुरू हुआ यह एसोसिएशन आज भारत के बड़े टैक्स एसोसिएशंस में अपना महत्वपूर्ण स्थान रखता है। उन्होंने बताया कि टीपीए के द्वारा समय समय पर केंद्र व् राज्य सरकार के कर विभागों में जो रिप्रेसेंटेशन दिए जाते हैं उसके कारण कर कानूनों में कई महत्वपूर्ण अमेंडमेंडस हुए हैं।

Must Read- दलेर मेहंदी को हुई 2 साल की जेल, 18 साल पुराने मानव तस्करी मामले में दी गई सजा

कार्यक्रम का सञ्चालन टीपीए के मानद सचिव सीए अभय शर्मा ने किया। इस अवसर पर सीए प्रमोद गर्ग, सीए सोम सिंघल, सीए अभिषेक गांग, सीए संकेत मेहता, सीए दीपक माहेश्वरी, सीए अजय सामरिया, सीए जे पी सर्राफ, सीए कृष्ण गर्ग, सीए सुनील पी जैन सहित बड़ी संख्या में कर सलाहकार उपस्थित थे।