जोधपुर में दो समुदायों में फिर हुआ पथराव, भारी पुलिस बल किया तैनात

राजस्थान में हिंसा का दौर लगातार देखने को मिल रहा है। जोधपुर में एक बार फिर से सांप्रदायिक तनाव बढ़ जाने के बाद पुलिस ने भारी पुलिस बल को तैनात कर लिया है। स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

जोधपुर में एक बार फिर से सांप्रदायिक तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। जानकारी के अनुसार हाल ही में दो पक्षों के बीच जमकर पत्थरबाजी हुई है। मौके पर भारी पुलिस बल को तैनात किया के दिया गया है। जानकारी के मुताबिक  3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। करीब 1 महीने बाद एक बार फिर से जोधपुर में हिंसा की स्थति पैदा हो गई, एक बार फिर से सांप्रदायिक हिंसा देखने को मिली। दो समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए, हालांकि अभी यह कारण स्पष्ट नहीं हुआ है कि पथराव की स्थिति क्यों बनी। लेकिन इस दौरान जमकर पत्थरबाजी हुई हैं। स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने मौके पर भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया है।

Must Read- ब्रेन ट्यूमर के संकेतों की अनदेखी पड़ सकती है बहुत भारी

इससे पहले भी जोधपुर में दो समुदायों के बीच में जमकर हंगामा हुआ था। बताया जा रहा है कि ईद और परशुराम जयंती मनाई जा रही थी और परशुराम जयंती के मौके पर रैली निकाली गई। इसी बीच जालोरी गेट पर झंडे और लाउडस्पीकर को लेकर जमकर विवाद शुरू हुआ और माहौल तनाव पूर्ण हो गया। यह तनाव की स्थिति 2 दिनों तक इसे ही जारी रही। इस मामले में पुलिस ने 250 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया था और 33 लोगों पर प्रकरण भी दर्ज किया था।

Must Read- बैंक फ्राड के मामले में क्रिकेटर नमन ओझा के पिता को मिली जमानत, आठ साल से थे फरार
सांप्रदायिक हिंसा की खबरें लगातार संज्ञान में आ रही है। आपको बता दें कि इससे पहले भी राजस्थान के करौली और अलवर में भी हिंसा देखने को मिली। हिंदू नव वर्ष के मौके पर बाइक रैली के दौरान दूसरे समुदाय के द्वारा उन पर पत्थरबाजी की गई थी और कई दुकानों में आग लगाई थी। इस दौरान भी जमकर माहौल हिंसा पूर्ण हो गया था। ऐसे माहौल को देखते हुए उस समय प्रशासन में करौली में कई दिनों तक कर्फ्यू लगाना पड़ा और इस हिंसा के मामले में पुलिस ने 44 आरोपियों को चिन्हित किया। लेकिन अब राजस्थान में हिंसा का दौर लगातार देखने को मिल रहा है। जोधपुर में एक बार फिर से सांप्रदायिक तनाव बढ़ जाने के बाद पुलिस ने भारी पुलिस बल को तैनात कर लिया है। स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।