दिल्ली श्रद्धा मर्डर मामलें में आरोपी आफताब तिहाड़ जेल की चार दिवारियों में बंद है। उसने सोमवार को जेल पुलिसकर्मियों से दिल्ली, गुजरात और हिमाचल प्रदेश के नतीजों के बारें में जानकारी ली। इससे पहले भी वह जेल की अंदर समय बिताने के लिए इंग्लिस नॉवेल की मांग की थी।

किसकी बन रही है सरकार

जानकारी के मुताबिक, शातिर आरोपी आफताब चुनाव के मुद्दे पर सुरक्षाकर्मियों से बात करता है। वह पुलिसकर्मियों से चुनाव से जुड़े सवाल पूछता है। साथ ही ये बातचीत करता है कि कौन जीत रहा है, किसकी सरकार बन रही है। हालांकि आफताब जेल में सामान्य तरीके से रह रहा है।

बता दें, पिछले दिनों दिल्ली पुलिस आफताब को पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए एफएसएल लेकर पहुंची थी, इस दौरान जेल की वैन पर हमला हुआ था। लेकिन इसके बावजूद आफताब को कोई डर नहीं है।

Also Read : Exit poll : गुजरात में सत्ता में बनी रहेंगी, हिमाचल में बीजेपी-कांग्रेस के बीच मुकाबला, दिल्ली में चली झाडू

ये नॉवेल मिली पढ़ने को

इससे पहले आफताब अमीन पूनावाला ने तिहाड़ जेल में समय बिताने के लिए इंग्लिश की नॉवेल पढ़ने के लिए मांगी थी। जेल सूत्रों ने बताया कि, आफताब के अनुरोध पर तिहाड़ जेल अधिकारियों ने उसे ‘द ग्रेट रेलवे बाजार’ नॉवेल दी। नॉवेल देने से पहले जेल अधिकारियों ने मंथन किया और फिर इस किताब को देने का निर्णय लिया था। अधिकारी चाहते थे कि ऐसी किताब देना चाहिए, जिससे आफताब किसी और को या खुद को नुकसान ना पहुंचाए या वो किताब क्राइम बेस्ड ना हो।

इस मामलें में बंद है तिहाड़ में

आफताब (28) ने मई महीने में अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वॉल्कर की दिल्ली में गला घोंटकर हत्या कर दी थी। उसके बाद बॉडी को टुकड़ों में काटकर दक्षिण दिल्ली के महरौली में फेंक दिया था। आफताब ने श्रद्धा के शव के टुकड़ों को कई दिन तक रेफ्रिजरेटर में रखा था। बाद में श्रद्धा के परिजन की शिकायत पर आफताब पर शिकंजा कसा गया और पूरे मामले का खुलासा हो सका था।