कांग्रेस पार्टी में अध्यक्ष पद को लेकर लगातार माहौल गरमाता जा रहा हैं। 17 अक्टूबर को चुनाव होना है, इसी को लेकर सांसद शशि थरूर ने कहा है कि पार्टी के कुछ नेता उन्हें चुनाव लड़ने से रोकना चाहते हैं। इस मामले के बारे में उन्होंने राहुल गांधी से भी बात की थी। लेकिन राहुल ने उन नेताओं की बात नही मानी और कहा कि शशि ऐसा नही करेंगे।

राहुल से मुलाकात में क्या बनी बात

शशि थरूर ने कहा कि हाल ही में उनकी राहुल गांधी से मुलाकात हुई थी। इस दौरान खुद राहुल गांधी ने उन्हें बताया था कि कांग्रेस के कुछ नेताओं ने उनसे कहा था कि वह थरूर से नामांकन वापस लेने के लिए कहें। लेकिन राहुल गांधी ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। थरूर के मुताबिक राहुल गांधी ने कहा कि वह ऐसा नहीं करेंगे।

शशि थरूर ने बताया कि राहुल गांधी ने कहा था कि वह चाहते हैं कि मैं चुनाव लडूं। क्योंकि उनका मानना है कि इससे पार्टी को ही फायदा होगा। थरूर ने यह भी कहा कि पार्टी के जो कार्यकर्ता काफी मजबूत हैं, वे अपनी पसंद के लिए वोट करेंगे।

दो दिग्गज नेता आमने-सामने

कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और सांसद शशि थरूर आमने-सामने हैं। हाल ही में शशि थरूर ने कहा था कि, वह इस पद को लेकर डिबेट के लिए तैयार हैं। क्योंकि इससे पार्टी में लोगों की दिलचस्पी बढ़ेगी। जैसे कि हाल में ब्रिटेन में कंजर्वेटिव पार्टी के नेतृत्व पद के चुनाव को लेकर हुई थी। वहीं इस पर खड़गे ने साफ कहा है कि वह इसमें नहीं पड़ना चाहते।

पूर्वजों से मिली विरासत में

थरूर ने कहा था कि नेहरू-गांधी परिवार ने एक विशेष स्थान धारण किया है और हमेशा रहेगा। कांग्रेस पार्टी के सदस्यों के दिलों में और अच्छे कारणों से भी. अपने महान पूर्वजों से विरासत में मिली महान विरासत के अलावा, वह लगातार विभिन्न समूहों, विचारधाराओं, भौगोलिक क्षेत्रों और समुदायों को एक साथ लाए हैं, जो सामूहिक रूप से कांग्रेस पार्टी का ताना-बाना बनाते हैं।

थरूर ने कहा था- हम दुश्मन या प्रतिद्वंद्वी नहीं

इसके साथ ही थरूर ने मल्लिकार्जुन खड़गे को लेकर कहा था कि हम दुश्मन या प्रतिद्वंद्वी नहीं हैं। हम सहयोगी हैं और हम पार्टी को आगे बढ़ाने में रुचि रखते हैं। मल्लिकार्जुन खड़गे हमारी पार्टी के ‘भीष्म पितामह’ हैं। पार्टी कार्यकर्ताओं को तय करने दें कि कैसे आगे बढ़ना है। उन्होंने कहा कि मैं खड़गे या अन्य किसी उम्मीदवार के बारे में कुछ भी नकारात्मक नहीं कहूंगा।