सिंधिया की मांग : ग्वालियर में नैरोगेज ट्रेन रूट पर चलाएं ‘पर्यटक ट्रेन’

jyotiraditya scindia rss headquater

ग्वालियर : ग्वालियर महानगर में रियायत कालीन नैरोगेज ट्रैन की विरासत सरंक्षित रहे और नगर के नागरिकों को परिवहन सुविधा एवं देश- विदेश से आने वाले पर्यटकों को पर्यटन की दृष्टि से भी इसका लाभ मिले, इसके लिए भारत सरकार के नागरिक उड्डयन मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया पिछले काफी समय से प्रयासरत हैं।

इस क्रम मे पूर्व में भी श्री सिंधिया ने ग्वालियर नगर में मेट्रों ट्रैन या टूरिज्म डिपार्टमेंट के माध्यम से नगर के पुराने नैरोगेज ट्रैक पर ट्रेन चलाने के लिए योजना तैयार करने की मांग की थी। जिसके परिणामस्वरूप मध्यप्रदेश मेट्रो रेल कारपोरेशन फिजियबिल्टी स्टडी करने के लिए भेजा है, जिसका कार्य प्रगति पर है, इस उद्देश्य से केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय के सहयोग से अभी शहर का कंपरेन्सिव मोबिलिटी प्लान बनाने का कार्य भी प्रगति पर है, जो कि आगामी 4 माह में पूर्ण हो जाएगा, जिसके आधार पर ग्वालियर नगर में नैरोगेज हैरिटेज ट्रैन एवम मेट्रो ट्रेन आदि के संचालन के लिए उपयुक्त ट्रेनों का चयन किया जाएगा।

श्री सिंधिया ने रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव जी को लिखे अपने पत्र में अवगत कराया है कि ग्वालियर से प्रकाशित पत्रिका अखबार में प्रकाशित खबर जिसमे उल्लखित किया गया है कि ग्वालियर-श्योपुर नैरोगेज ट्रैन के कोचों की नीलामी की जा रही है।

श्री सिंधिया ने रेल मंत्री जी से अनुरोध किया है कि जब तक ग्वालियर नगर में प्रस्तावित हेरिटेज ट्रैन या मेट्रों ट्रेन के विषय मे जब तक अंतिम निर्णय नही हो जाता है तब तक कृपया उक्त कोचों की नीलामी न की जाए, यदि उक्त संदर्भ में सकारात्मक निर्णय होता है तो उक्त कोचों एवं रेल इंजिन की ज़रूरत पड़ेगी, इसलिए इस नीलामी प्रक्रिया को अविलंब रोका जाना आवश्यक है।