Breaking News

Air Strikes के बाद रोने लगा था PAK, खुद ही कहा- Modi ने मारा: पीएम

Posted on: 09 Mar 2019 14:22 by Ravindra Singh Rana
Air Strikes के बाद रोने लगा था PAK, खुद ही कहा- Modi ने मारा: पीएम

आगामी लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को ग्रेटर नोएडा में पंडित दीनदयाल उपाध्याय इंस्टीट्यूट ऑफ आर्किलॉजी के साथ नोएडा सिटी सेंटर से इलेक्ट्रॉनिक सिटी मेट्रो का भी उद्घाटन किया। इसके प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय सेना की जबरदस्त तारीफें की। मोदी ने पिछली सरकार पर जमकर हमलावर हुए।

मोदी बोले-आप यहां मोदी-मोदी कर रहे हैं और वहां कुछ लोगों की नींद हराम हो रही है। कभी नोएडा की पहचान सरकारी धन की लूट, अथॉरिटी और टेंडर में होने वाले नए नए खेल और जमीन घोटालों की वजह से बनी खबरों के कारण होती थी। आज नोएडा और ग्रेटर नोएडा की पहचान विकास की परियोजनाओं से है।

2014 से पहले मोबाइल फोन बनाने वाली सिर्फ 2 फैक्ट्रियां थी। आज करीब सवा सौ फैक्ट्रियां देश में मोबाइल बना रही हैं। इसमें से बड़ी संख्या में फैक्ट्रियां नोएडा में हैं।

Read More:- तमिलनाडु सरकार के मंत्री बोले, पीएम मोदी हमारे पिता है| PM Modi our daddy, India’s daddy

यहां की कनेक्टिविटी को और सुधारने के लिए जेवर में देश का सबसे बड़ा हवाई अड्डा बनने जा रहा है। इससे जुडी सभी प्रक्रियाओं को तेजी से पूरा किया जा रहा है। जेवर एयरपोर्ट पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लिए एक स्वर्णिम अवसर लेकर आएगा। अब अगले कुछ हफ्तों में उड़ान योजना के तहत जल्द बरेली से भी उड़ानें शुरू हो जाएंगी। ‘उड़े देश का आम नागरिक’ इस लक्ष्य के साथ अब तक 120 रूटों को शुरू किया जा चुका है।

आज दो और बड़े पावर प्लांट्स का शिलान्यास यहां से किया गया है। एक प्लांट यूपी के ही बुलंदशहर के खुर्जा में लग रहा है और दूसरा बिहार के बक्सर में। हमारी सरकार 21वीं सदी में देश की ऊर्जा जरूरतों को ध्यान रखते हुए अनेक क्षेत्रों में काम कर रही है। पहले की सरकारों ने पावर सेक्टर और देश की ऊर्जा जरूरतों को नजरअंदाज किया था।

Read More:- अखिलेश का मोदी पर तंज, कहा- वो आखिरी बार पूरा कर रहे हैं ये शौक| modi varanasi akhilesh yadav tweet against pm modi

कल कानपुर में पनकी पावर प्रोजेक्ट के विस्तार का काम आरंभ हुआ है। आप ये जानकर हैरान रह जाएंगे कि पनकी प्रोजेक्ट में 40-40, 50-50 साल पुरानी हो चुकी मशीनों से ही काम लिया जा रहा था। नतीजा ये था कि जो बिजली वहां बन भी रही थी, उसकी कीमत आ रही थी 10 रुपए प्रति यूनिट।

पहले की सरकारों के इसी रवैये ने देश के पावर सेक्टर को खस्ताहाल कर दिया था। देश के लोग वो दिन नहीं भूल सकते, जब टीवी चैनलों पर ब्रेकिंग न्यूज चला करती थी कि पावर प्लांट्स में एक दिन-दो दिन का ही कोयला बचा है।

देश के पावर सेक्टर को सुधारने के लिए इसलिए हमारी सरकार ने नई अप्रोच के साथ, नई नीतियों के साथ काम किया। हमने चार चीजों पर फोकस किया, चार अलग-अलग स्तरों पर काम किया – Production, Transmission, Distribution,Connection ।

जिस कोयले के आवंटन में देश में करोड़ों का घोटाला हुआ था, उसी कोयले की नीलामी के लिए हमारी सरकार ने देश को एक पारदर्शी और आधुनिक व्यवस्था दी। भारत की ऊर्जा सुरक्षा सुनिश्चित करते समय हमने 2022 तक 175 गीगावॉट clean energy के उत्पादन क्षमता जोड़ने का लक्ष्य भी रखा।हमारा सपना है One World, One Sun और One Grid।

Read More:- पाकिस्तान ने भारतीय वायुसेना के पायलटों पर किया केस Pakistan in Case of Indian Air Force pilots

1950-2014 तक लगभग 2.5 लाख MW की क्षमता विकसित की गई थी। लेकिन इन पांच साल में एक लाख MW से अधिक कैपेसिटी तैयार की गई है। 18 हजार से ज्यादा ऐसे गांव जहां आजादी के इतने वर्षों बाद भी बिजली नहीं पहुंची थी, उन्हें हमारी सरकार ने बिजली से जोड़ा।

हम भी अगर पुरानी रफ्तार से चलते तो इतनी ज्यादा क्षमता जोड़ने में दशकों लग जाते। लेकिन नया भारत अब नई रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। अब तक देश भर में लगभग 150 करोड़ LED बल्ब वितरित किये गए है और इससे लोगों के बिजली बिलों में भी बचत हो रही है।

नोएडा में आज एक और महत्वपूर्ण काम हुआ है।देश की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत, हमारी सभ्यता से जुड़े अहम स्थान दीनदयाल उपाध्याय इंस्टीट्यूट ऑफ आर्कियॉलॉजी का एक भव्य कैंपस यहां बनकर तैयार हुआ है। 25 एकड़ में फैला ये परिसर भारत के गौरवशाली अतीत के अनुकूल है।

हमारे गौरवशाली देश के इतिहास में, जिसने सैकड़ो वर्ष तक गुलामी का कालखंड देखा, हमारी प्रचीन विरासत को नष्ट होते देखा है। इसके अध्ययन में आर्कोलोजी का बहुत महत्व है। काशी विश्वनाथ में भोले बाबा के 40 से ज्यादा मंदिरों को लोग दबोच के बैठे थे।अब इन मंदिरों को सहेजा जा रहा है।

हमारी सरकार में लेने-देने वाली संस्कृति पर पूरी सख्ती के साथ निपटा जा रहा है और योजनाओं को संपूर्णता के साथ, सामान्य मानवी के हित में बनाया जा रहा है। इसी कारण हर भ्रष्ट को मोदी से कष्ट है और वो आज इस चौकीदार को गाली देने के कॉम्पटीशन में जुटे हैं।

विपक्ष पर साधा निशाना

उरी के बाद हमसे सबूत मांग रहे थे। पुलवामा हमला हुआ तो भारत के वीरों ने जो काम किया ऐसा काम दशकों तक नहीं हुआ। हमारे वीरों ने आतंकियों को उनके घर में घुस के मारा है।

भारत कभी नहीं भूल सकता कि 26 नवंबर, 2008 को मुंबई में पाकिस्तान से आए 10 आतंकियों ने आतंकी हमला किया था। सारे सबूत पाकिस्तान में बैठे आतंक के आकाओं की तरफ जा रहे थे।

लेकिन भारत ने क्या किया, पाकिस्तान को कैसे जवाब दिया? खबरें तो ये भी हैं कि उस समय भी हमारी वायुसेना ने कहा था कि हमें खुली छूट दीजिए। लेकिन हमारे सुरक्षाबलों को छूट नहीं दी गई। उनके हाथ-पैर बाँध कर कहा गया कि आतंक का मुकाबला करिए।

याद करिए, साल 2010 में पुणे में एक बेकरी में बम धमाका हुआ, उसी साल वाराणसी में दशाश्वमेध घाट पर बम धमाका हुआ। साल 2011 में मुंबई में फिर आतंकी हमला हुआ। ओपेरा हाउस, जावेरी बाजार, दादर में बम फटे। दिल्ली हाईकोर्ट के सामने भी बम फटा।

सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक के बाद आतंक के आकाओं को समझ में आ गया है कि ये पुराना भारत नहीं है। देश के वीर जवान उन्हें जवाब दे रहे हैं, लेकिन इस देश के नागरिक के तौर पर सतर्क रहकर हमे भी अपना दायित्व निभाना है।

देश के वीर जवान अपना काम कर रहे हैं, इस समय देश के नागरिक के तौर पर हमें भी सतर्क रहना है, अपना दायित्व निभाना है। उस ताकत को जवाब देना है, जो देश के टुकड़े-टुकड़े करने का सपना देख रहे हैं।

इस टुकड़े-टुकड़े गैंग को पहचानिये, सबसे पहले पाकिस्तान ने ट्वीट करके कहा कि भारत की सेना ने हमारे घर में घुसकर मारा है। लेकिन हमारे देश में ऐसे सिरफिरे लोग हैं, जिन्होंने 8-9 बजते ही कहना शुरू कर दिया कि पता नहीं ये बालाकोट कहां है और वहां क्या क्या हुआ।

2014 से लेकर हम निरंतर नए भारत की मज़बूत नींव तैयार करने का काम कर रहे हैं। हमने देश की आवश्यकताओं को पूरा करने, देश के लोगों तक मूलभूत सुविधाएं पहुंचाने के लिए काम किया है। अब आने वाला समय देश की आकांक्षाओं को पूरा करने का है।

बीते 5 वर्षों में हमने नए भारत की जो नींव बनाई है, अब आने वाले वर्षों में उस पर वैभवशाली भारत की इमारत तैयार होगी। ऐसा भारत जो सफल हो, सक्षम हो और सुरक्षित हो।

Read More:- MP Cm की भविष्यवाणी, 15 मई को Modi पीएम नहीं रहेंगे

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com