कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा मध्य प्रदेश के इंदौर तक पहुंची है। यहां पर राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फेंस के दौरान उनका माइक बार-बार प्रॉब्लम होने की वजह से ‘कमल देयर सम इंटरफेयरेंस टेकिंग प्लेस हियर’ कहते सुनाई दिए। इस पर भारतीय जनता पार्टी ने राहुल पर जोरदार हमला किया। बता दें कि, मध्यप्रदेश में जब से भारत जोड़ो यात्रा है तब से भाजपा हर एक मूवमेंट पर नजर बनाए हुई है।

ये हमारे देश के संस्कार नहीं हैं राहुल जी

बीजेपी ने इसका वीडियो जारी कर कहा – ये हमारे देश के संस्कार नहीं हैं राहुल जी। वहीं बीजेपी के एक प्रवक्ता ने कहा – पिता की उम्र के कमलनाथ जी को ‘कमल’ कहकर बुलाना तुम्हारी असभ्यता का प्रमाण है। सोमवार को इंदौर में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ये वाकया हुआ, तो बीजेपी ने फौरन राहुल गांधी को निशाने पर ले लिया। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कमलनाथ राहुल गांधी के बगल में ही बैठे थे।

बीजेपी ने ये ट्वीट किया 

 

गौरतलब है कि, इंदौर में सोमवार को राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। जैसे ही, प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू हुई, माइक गड़बड़ करने लगा। कई बार माइक से बीप और स्पार्किग की आवाजें आईं। परेशान होकर राहुल ने इसे ठीक करने के लिए कहा। दूसरी बार राहुल गांधी जैसे ही जवाब देने लगे, कुछ देर में माइक में फिर प्रॉब्लम देने लगा। राहुल गांधी ने बगल में बैठे कमलनाथ की ओर देखकर कहा-‘कमल देयर सम इंटरफेयरेंस टेकिंग प्लेस हियर’।

उसके बाद राहुल के पीछे की कतार में बैठीं राष्ट्रीय प्रवक्ता रागिनी नायक ने कहा- मोबाइल की वजह से ये दिक्कत हो रही है। रागिनी की बात सुनकर राहुल गांधी ने आसपास बैठे लोगों को मोबाइल ऑफ करने के लिए कहा। इसके बाद तीसरे पत्रकार ने सवाल किया, तो भी माइक में समस्या होने लगी।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में ये बोले राहुल

राहुल गांधी ने कहा- भाजपा की दिक्कत है कि उन्होंने हजारों करोड़ रुपए मेरी इमेज को खराब करने में लगा दिए। मेरी इमेज बना दी, लेकिन ये मेरे लिए फायदेमंद रहा। सच्चाई को छुपाया नहीं जा सकता। अगर आप किसी बड़ी शक्ति से लड़ रहे हो, तो निजी हमले होंगे। अगर मुझ पर हमले हो रहे हैं, तो मुझे लगता है कि मैं सही काम कर रहा हूं।

ये एक प्रकार से मेरा गुरु है। ये मुझे सिखाता है कि मुझे इधर जाना है, उधर नहीं जाना। लड़ाई क्या है, लड़ाई जो आपके सामने खड़ा है। लड़ाई उसकी सोच को गहराई से समझने की है। मैं धीरे-धीरे आरएसएस और भाजपा की सोच को अच्छे से समझने लगा हूं।

Also Read : रोड़ शो के दौरान दिल्ली सीएम केजरीवाल के ऊपर हुई पत्थरबाजी, कार्यकर्ताओं और समर्थकों के बीच झड़प

मंत्री कमल पटेल ने कमलनाथ को दी नसीहत

कृषि मंत्री और हरदा विधायक कमल पटेल ने राहुल गांधी को संस्कारहीन बताते हुए कमलनाथ को नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि यदि कमलनाथ में जरा सा भी स्वाभिमान बचा हो तो वे तुरंत पार्टी छोड़ दें। साथ ही उनके नेतृत्व में कार्य न करें। राहुल गांधी को इस व्यवहार के लिए कमलनाथ और देश की जनता से माफी मांगना चाहिए।

बीजेपी का तंज

बार-बार माइक में आ रही दिक्कतों को लेकर बीजेपी के प्रदेश मंत्री रजनीश अग्रवाल ने तंज कसते हुए लिखा- अरे कोई है पीसीसी में? जो राहुल बाबा का ऑडियो ठीक करा दे। PC में कौन है जो अड़चन डाल रहा है।

जयराम बोले- कोई फोटो, वीडियो नहीं लेगा

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान माइक से आ रही आवाजों से परेशान होकर जयराम रमेश ने पत्रकारों को मोबाइल से फोटो और वीडियो बनाने से मना कर दिया। प्रेस कॉन्फ्रेंस शुरू होने के पहले ही जयराम रमेश ने ये साफ कर दिया कि मप्र के पत्रकारों को सवाल पूछने में प्राथमिकता दी जाएगी।

सोशल मीडिया की जंग थाने तक पहुंची

यात्रा के दौरान मप्र में बीजेपी और कांग्रेस के प्रवक्ताओं की जंग सोशल मीडिया पर छिड़ी हुई है, लेकिन सोशल मीडिया की जंग अब थाने पहुंच गई है। तीन दिन पहले छत्तीसगढ़ के रायपुर शहर के सिविल लाइंस थाने में मप्र बीजेपी के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पाराशर पर राहुल गांधी की यात्रा ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के कथित नारे लगने वाले वीडियो को शेयर करने के मामले में एफआईआर दर्ज की गई थी। बीजेपी मीडिया प्रभारी के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद रविवार शाम को मप्र कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख पीयूष बबेले और आईटी विभाग के हेड अभय तिवारी के खिलाफ भोपाल के क्राइम ब्रांच में केस दर्ज किया गया है।