rafale

 

अंबाला: चीन से तनाव के बीच आज भारतीय वायुसेना को नई ताकत मिलने वाली है। दरअसल, फ्रांस से लाए गए पांच राफेल लड़ाकू विमान आज औपचारिक रूप से वायुसेना को सौंप दिए जाएंगे। अंबाला एयरबेस पर आयोजित भव्य कार्यक्रम में ये प्रक्रिया पूरी की जाएगी। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के साथ फ्रांस की रक्षा मंत्री भी समारोह में शिरकत कर रही हैं।

कार्यक्रम की शुरुआत सुबह 10 बजकर 15 मिनट पर होगी। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, सीडीएस बिपिन रावत और भारतीय वायुसेना के चीफ आरकेएस भदौरिया पहुंचेंगे। इसके पांच मिनट बाद यानी 10 बजकर 20 मिनट पर पूजा होगी। 10 बजकर 30 मिनट पर फ्लाई पास्ट शुरू होगा। इसके बाद वक्ता बोलेंगे और राफेल को औपचारिक रूप से एयरफोर्स का हिस्सा बना लिया जाएगा।

राफेल विमानों को वायुसेना में शामिल करने से पहले अंबाला एयरबेस पर सर्व धर्म पूजा की जाएगी। फिर राफेल आसमान में उड़ान भरकर अपनी ताकत का अहसास कराएंगे। साथ ही स्वदेशी एयरक्राफ्ट तेजस का एयर डिस्प्ले भी होगा।

अंबाला एयरबेस पर आयोजित भव्य समारोह की शान बढाएगी सारंग एयरोबेटिक टीम। ये टीम अपने अनूठे करतब से राफेल को सलामी देगी। सुखोई और जगुआर लड़ाई विमान भी फ्लाई पास्ट कर सकते हैं। आखिर में पारंपरिक अंदाज में फिर से राफेल विमानों को वाटर कैनन सलामी दी जाएगी।