अब इंदौरी बनेगें ‘साइबर स्मार्ट’, Quick Heal फाउंडेशन और पुलिस मिलकर करेंगे जागरूक

इंदौर : वर्तमान के आधुनिक तकनीकी युग में हम सभी दिन प्रतिदिन नित नये आधुनिक तकनीकों का प्रयोग कर रहे है, जिसके कारण हम सभी एक अलग ही आभाषी दुनिया में पहुंच गये है, जिसमें कई सुविधाओं के साथ-साथ हमें कई प्रकार की परेशानियों का भी सामना करना पड़ता है और अपराधी तत्व इन्ही तकनीको का सहारा लेकर हमें टारगेट करते है। इन साइबर अपराधों से बचाव का तरीका और इस संबंध में ज्यादा से ज्यादा जानकारी रखना ही, इनसे सुरक्षित रहने का सबसे आसान उपाय है।

यह भी पढ़े : इंदौर के इतिहास में पहली बार होगी ‘Skull Base Indore 2022’ की नेशनल कॉन्फ्रेंस

इसी बात को ध्यान में रखते हुए इंदौर पुलिस द्वारा विभिन्न संस्थाओं के साथ मिलकर समय-समय पर साइबर अपराधों से सुरक्षा हेतु जागरूकता कार्यक्रम चलाये जा रहे है। इसी कड़़ी में पुलिस आयुक्त नगरीय इंदौर श्री हरिनारायणचारी मिश्र के निर्देशन में इंदौर पुलिस एवं क्विक हील (Quick Heal) फ़ाउंडेशन, पुणे के संयुक्त तत्वाधान में साइबर अपराधों के प्रति लोगों में जागरूकता लाने हेतु ‘‘साइबर शिक्षा से साइबर सुरक्षा’’ अभियान चलाया जा रहा है, जिसके तहत (26 अप्रेल से 06 मई 2022) दस दिनो तक इंदौर शहर के प्रमुख चौराहों, बाजारों, स्कूल/कॉलेज आदि विभिन्न स्थानों पर क्विक हील (Quick Heal) फ़ाउंडेशन, की ओर से मुंबई के आई ड्रामा टीम द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जनता को साइबर अपराधों से बचने के तरीको को समझाते हुए जागरूक करने का प्रयास किया जावेगा।इस अभियान का शुभारंभ कल दिनांक 26.04.2022 को रविन्द्र नाट्य गृह इंदौर में किया गया, जिसमें क्विक हील (Quick Heal) फ़ाउंडेशन, की चेयरपर्सन श्रीमती अनुपमा केटकर के मुख्य आतिथ्य में सहायक पुलिस आयुक्त (मुख्यालय) इंदौर श्री अजय बाजपेयी, सहायक पुलिस आयुक्त (जूनी इंदौर) श्री दीशेष अग्रवाल, सहायक पुलिस आयुक्त (साइबर) क्राइम ब्रांच इंदौर श्री निमेश देशमुख, क्विक हील प्रोग्राम मैनेजर श्री अजय शिरके, निरीक्षक, कार्यालय अति. पुलिस उपायुक्त मुख्यालय इंदौर श्री राधा जामोद की उपस्थिति में इंदौर पुलिस के अधिकारी/कर्मचारीगण, नगर सुरक्षा समिति के सदस्यगण, विभिन्न स्कूलों के शिक्षकगण, स्टूडेंट पुलिस कैडेट्स योजना के कैडेट्स एवं गणमान्य नागरिकगण उपस्थित रहेे।

यह भी पढ़े : इंदौर के नीरज राठौर की शिकायत के बाद राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग ने बनाया Online शिकायत पोर्टल

उक्त जागरूकता कार्यक्रम के शुभारंभ के अवसर पर क्विक हील फ़ाउंडेशन, की चेयरपर्सन श्रीमती अनुपमा केटकर ने बताया कि, बढ़ते साइबर अपराधों के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के उद्देश्य से क्विक हील फ़ाउंडेशन, इंदौर पुलिस के साथ मिलकर यह ‘‘साइबर शिक्षा से साइबर सुरक्षा’’ अभियान चला रहा है, जिसके अंतर्गत हमारी मुंबई के आई ड्रामा टीम आगामी दस दिनों 26 अप्रैल 2022 से 6 मई 2022 तक नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जनता को साइबर अपराधों के प्रति जागरूक करेगें। इसके तहत प्रतिदिन कुल 10 नुक्कड़ नाटक इंदौर शहर के प्रमुख चौराहों, बाजारों, स्कूल/कॉलेज आदि विभिन्न स्थानों पर किये जाएगें, जिसमें पांच सुबह (8 से 2 बजे तक) एवं पांच शाम ( 4 से 9 बजे तक) के लिए किये जाएगें। उन्होंने कहा कि हम यह मानकर चल रहे है कि, प्रत्येक नाटक की प्रस्तुति से हम कम से कम 100 लोगों को जागरूक करेगें, इस प्रकार एक दिन में 1000, तो 10 दिन में कम से कम 10 हज़ार लोग सायबर जागरूक बनेंगे और ये साइबर स्मार्ट लोग अपने परिवार के सदस्यों, करीबी रिश्तेदारों एवं दोस्तों को जागरूक करेगें जिससें इंदौर शहर साइबर अपराधों के प्रति जागरूक होने की दिशा में अग्रसर हो जाएगा और यही क्विक हील फ़ाउंडेशन एवं इंदौर पुलिस का उद्देश्य है।

उपस्थित पुलिस अधिकारियों ने भी कहा कि साइबर अपराधें के प्रति जागरूकता लाने हेतु क्विक हील फ़ाउंडेशन द्वारा किये जा रहे इस सराहनीय प्रयास में इंदौर पुलिस पूर्ण रूप से सहयोग प्रदान करेगी। कार्यक्रम के शुभारंभ के अवसर पर मुंबई से आई ड्रामा टीम द्वारा एक नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति भी दी गयी। कार्यक्रम का सफल संचालन श्री शिवम ठक्कर, उप निरीक्षक अति. पुलिस उपायुक्त मुख्यालय कार्यालय इन्दौर द्वारा किया गया तथा अभियान के दौरान किये जाने वाले कार्यक्रम की रूपरेखा भी बताई गयी । इस दौरान शहर को सुरक्षित एवं साइबर जागरूकता लाने हेतु सभी ने शपथ भी ली।इस ‘‘साइबर शिक्षा से साइबर सुरक्षा’’ अभियान के तहत ड्रामा टीम द्वारा कल दिनांक 26.04.22 को शाम को शहर के व्यस्ततम एंव प्रमुख स्थान राजवाड़ा, बड़ी सराफा, कांच मंदिर के सामने एवं पीपली बाजारा पर नुक्कड नाटक किया गया। इसी कडी में आज मार्निंग शिफ्ट में भागीरथपुरा पुलिस चौकी, वैष्णव कार्मस कॉलेज, वैष्णव मैनेजमेंट कॉलेज एवं चाणक्यपुरी चौराहे, इस प्रकार 4 स्थानों पर नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति टीम द्वारा दी गयी और इसके माध्यम से साइबर अपराधों से बचाव हेतु किन बातों का ध्यान रखना है और क्या- क्या सावधानियां रखनी चाहिए, आम जन को जानकारी देकर जागरूक करने का प्रयास किया गया।‘‘साइबर शिक्षा से साइबर सुरक्षा’’ अभियान के तहत नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरूक करने का इंदौर पुलिस एवं क्विक हील फ़ाउंडेशन का यह प्रयास दिनांक 06 मई 2022 तक निरंतर जारी रहेगा। आम नागरिको से अनुरोध है कि, वह अपने क्षेत्रों में होने वाले इन नुक्कड नाटकों की प्रस्तुति की दर्शक दीर्घा में जरूर सम्मिलित हों और स्वयं एवं अपने परिजनों को साइबर अपराधों के प्रति जागरूक करें।